NDTV Khabar

लता मंगेश्कर के नाम पर लोगों को ठगती थी महिला, मामला दर्ज कर तलाश

कुछ दिन पहले नौकरी की चाहत रखने वाले एक व्यक्ति ने एक मंत्री के जाली हस्ताक्षर किए और इसके बाद वह इस फर्जी पत्र को ही मंत्री के पास ले गया और उनसे अधिकारियों द्वारा उनके आदेश का अनुपालन नहीं किए जाने की शिकायत की थी.

40 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
लता मंगेश्कर के नाम पर लोगों को ठगती थी महिला, मामला दर्ज कर तलाश

लता मंगेश्कर के नाम पर लोगों को ठगती थी महिला

खास बातें

  1. लता मंगेश्कर का जाली लेटर हेड बनवा रखा था
  2. लता मंगेश्कर के नाम पर लोगों से पैसा ठगती थी
  3. महिला फरार है, पुलिस तलाश कर रही है
मुंबई: स्वर साम्राज्ञी लता मंगेशकर की जाली हस्ताक्षर, लेटर हेड और मुहर बनाकर दूसरों को ठगने वाली महिला के खिलाफ मामला दर्ज हुआ है. आरोपी महिला का नाम रेवती खरे है. रेवती देवी के मामले की पुलिस मामले की जांच कर रही है.आरोप है कि रेवती खरे सबको बताती थी कि लता दीदी का ट्रस्ट है, जिसके जरिए वह गरीबों की मदद करती हैं. लोग लता मंगेशकर का नाम और उनका पत्र देख आर्थिक मदद कर देते थे.

पीएम नरेंद्र मोदी का मुख्य सचिव बताकर करता था ठगी, धरा गया

लता मंगेशकर को जब यह पता चला तो उनके नाम पर महेश राठौड़ ने रेवती देवी को रुपया दिया तो उन्होंने पुलिस थाने में मामला दर्ज कराया. नालासोपारा में रहने वाली आरोपी रेवती फरार है. 

छत्तीसगढ़ में नकली सोना देकर 16 लाख रुपये ठगने वाले तीन आरोपी मध्यप्रदेश में गिरफ्तार

कुछ दिन पहले नौकरी की चाहत रखने वाले एक व्यक्ति ने एक मंत्री के जाली हस्ताक्षर किए और इसके बाद वह इस फर्जी पत्र को ही मंत्री के पास ले गया और उनसे अधिकारियों द्वारा उनके आदेश का अनुपालन नहीं किए जाने की शिकायत की.
इससे चकित मंत्री को यह एहसास हुआ कि उसने कभी भी इस तरह के किसी पत्र पर हस्ताक्षर नहीं किए. यह घटना यहां आंध्र प्रदेश सचिवालय में कल देर शाम प्रकाश में तब आई जब ‘अली’ नाम का एक व्यक्ति पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री भूमा अखिला प्रिया के पास जा पहुंचा और उनके हस्ताक्षर वाला एक पत्र उनके हाथों में थमा दिया. उसने शिकायत की कि उसे पर्यटन विभाग में नौकरी देने के उनके निर्देश का अधिकारी पालन नहीं कर रहे है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement