राजस्थान से 1200 प्रवासी मजदूरों को लेकर कल पश्चिम बंगाल जाएगी पहली 'श्रमिक ट्रेन'

राजस्थान से 1200 प्रवासी मजदूरों को लेकर कल पहली 'श्रमिक ट्रेन' पश्चिम बंगाल जाएगी.

राजस्थान से 1200 प्रवासी मजदूरों को लेकर कल पश्चिम बंगाल जाएगी पहली 'श्रमिक ट्रेन'

नई दिल्ली:

देश में कोरोनावायरस (Coronavirus) का कहर बढ़ता ही जा रहा है. भारत में कोरोनावायरस से संक्रमितों का आंकड़ा 40 हजार पार कर गया है और अब तक 1300 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं, कोरोना के कहर को देखते हुए लॉकडाउन को 17 मई तक के लिए बढ़ दिया गया है. इस बीच राजस्थान से 1200 प्रवासी मजदूरों को लेकर कल पहली 'श्रमिक ट्रेन' पश्चिम बंगाल जाएगी. अजमेर से 1200 प्रवासियों को लेकर रवाना होगी.

पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने कहा कि कोरोनोवायरस लॉकडाउन के कारण राजस्थान में फंसे प्रवासी श्रमिकों को ले जाने वाली एक विशेष ट्रेन सोमवार शाम रवाना होगी. यह ट्रेन अजमेर से रवाना होगी और मंगलवार को दुर्गापुर पहुंचेगी.


राज्य के फंसे हुए प्रवासियों की वापसी को लेकर कल वित्त मंत्री पीयूष गोयल से चर्चा की थी. एक विशेष ट्रेन 5 मई को आसनसोल के माध्यम से दुर्गापुर तक पहुंचने की उम्मीद है, जिसे राजस्थान (अजमेर) से डब्ल्यूबी से प्रवासी ले जाने के लिए निर्धारित किया गया है.

उधर, लॉकडाउन में फंसे प्रवासी मजदूरों को उनके गृह राज्य तक पहुंचाने के लिए किराया लेने के रेल मंत्रालय के कदम और राज्यों द्वारा उस किराये की वसूली सरकार और विपक्ष के बीच टकराव की नई वजह बन गाया है. कोरोनावायरस के संक्रमण को रोकने के लिए देशभर में जारी लॉकडाउन को दो और हफ्तों के लिए बढ़ा दिया गया है और केंद्र सरकार ने शुक्रवार से फंसे हुए मजदूरों को उनके गृह राज्य तक पहुंचाने के लिए विशेष ट्रेनें चलानी शुरू की हैं. लेकिन राज्यों की मांग के विपरीत प्रवासी मजदूरों से किराया वसूला जा रहा है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

बता दें कि रविवार शाम को स्वास्थ्य मंत्रालय (Health Ministry) की ओर से जारी ताजा आंकड़ों के मुताबिक भारत में कोरोनावायरस संक्रमितों की संख्या 40263 हो गई है. पिछले 24 घंटों में कोरोना के 2487 नए मामले सामने आए हैं और 83 लोगों की मौत हुई है. वहीं, देश में कोरोना से अब तक 1306 लोगों की मौत हो चुकी है, हालांकि राहत की बात यह है कि 10887 मरीज इस बीमारी को हराने में कामयाब भी हुए हैं.

मालूम हो कि देश में कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए लॉकडाउन को 17 मई तक के लिए बढ़ा दिया गया है. बता दें कि देश में दूसरे चरण का लॉकडाउन तीन मई तक था, लेकिन गृह मंत्रालय ने इसे बढ़ाकर 17 मई तक कर दिया है. हालांकि इसमें कुछ रियायत भी दी गई है. गृह मंत्रालय की तरफ से जारी दिशा-निर्देशों के अनुसार ग्रीन जोन और ऑरेंज जोन में कुछ रियायतें भी दी गई हैं.