चुनिंदा विमानों पर पाबंदी से इंडिगो की 488, गोएयर की 138 उड़ानें रद्द

नागर विमानन महानिदेशालय ने इन जहाजों के उड़ान भरने से रोक दिया है. सस्ती विमान सेवा देने वाली यह कंपनियां रोजाना औसतन 1,200 उड़ानों का परिचालन करती है.

चुनिंदा विमानों पर पाबंदी से इंडिगो की 488, गोएयर की 138 उड़ानें रद्द

प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली:

हवाई यात्रियों को इस महीने अपनी हवाई यात्रा में भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है क्योंकि इंडिगो और गोएयर ने इस महीने अपनी 600 से ज्यादा उड़ानों को रद्द करने का निर्णय किया है. इसमें 488 उड़ानें अकेले इंडिगो की हैं. इसकी मुख्य वजह दोनों कंपनियों के कुल 11 ए320 नियो विमानों में प्रैट एंड व्हिटनी ( पीएंडडब्ल्यू) के इंजन में खराबी का होना है. इस वजह से ही नागर विमानन महानिदेशालय ने इन जहाजों के उड़ान भरने से रोक दिया है. सस्ती विमान सेवा देने वाली यह कंपनियां रोजाना औसतन 1,200 उड़ानों का परिचालन करती है. इनके उड़ानें रद्द करने से लोगों की हवाई यात्राएं स्पष्ट तौर पर प्रभावित हो सकती हैं. अभी इस बात पर तत्काल कोई स्पष्टीकरण नहीं मिला है कि जिन यात्रियों के पास पहले से यात्रा का टिकट है उन्हें कोई संभावित मुआवजा दिया जाएगा या यात्रा का विकल्प मुहैया कराया जाएगा या नहीं.

यह भी पढ़ें: सुरेश प्रभू बोले- देश में तेजी से विकास कर रहा है विमानन क्षेत्र

घरेलू हवाई यात्रा बाजार में सबसे अधिक हिस्सेदारी रखने वाली इंडिगो 15 से 31 मार्च के बीच 488 उड़ानें रद्द कर सकती है. गो एयर ने भी 15 से 22 मार्च के बीच 138 उड़ानों को रद्द करने का निर्णय किया है. दोनों कंपनियों ने अपनी वेबसाइट पर इसकी जानकारी दी है. नागर विमानन महानिदेशालय( डीजीसीए) के पास जमा कराई गई उड़ान समय सारिणी के अनुसार इंडिगो 15 मार्च से21 मार्च के बीच रोजाना 36 उड़ानों का, 22 से24 मार्च के बीच रोजाना 18 और 25 से 31 मार्च के बीच रोजाना 26 उड़ानों का संचालन नहीं करेगा.

Newsbeep

VIDEO: सरकार ने खत्म की हज सब्सिडी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इस तरह से महीने के अंत तक उसकी कुल 488 उड़ानों का संचालन नहीं होगा. इसी प्रकार गो एयर की 15 से 24 मार्च के बीच कुल 138 उड़ानों का संचालन नहीं होगा. दोनों विमानन कंपनियों की कुल 626 उड़ानें इस अवधि में रद्द रहेंगी.