NDTV Khabar

पहाड़ों पर मूसलाधार बारिश से तराई क्षेत्र की सभी नदियां उफान पर

नदियों के उफान से जिले की चार तहसीलों के लगभग पांच दर्जन से अधिक गांव प्रभावित हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पहाड़ों पर मूसलाधार बारिश से तराई क्षेत्र की सभी नदियां उफान पर

बाढ़ की फाइल तस्वीर

लखीमपुर खीरी,:

पहाड़ों पर हुई मूसला धार बरसात से पीलीभीत जनपद सहित समूचे तराई क्षेत्र की नदियां उफान पर हैं, बिना वर्षा के ही तराई की सभी नदियां खतरे से ऊपर बहती हुई पलिया-निघासन व फूलबेहड़ तथा धौरहरा तहसील में बाढ़ की भयावहा स्थित उत्पन्न कर रही है. शासन-प्रशासन की तरफ से बाढ़ से निपटने के लिये न तो कोई पुख्ता इंतजाम ही किए गए हैं न ही कोई संसाधनों की व्यवस्था है. यहां तक कि किसी अधिकारी और कर्मचारियों ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्र में दौरा और मुआइना करने की भी जहमत तक नहीं की. इधर कई दिनों से क्षेत्र की शारदा, सुहेली, नकौआ, जौरहा, नेपाल की नकौआ, मोहाना, कणार्ली, सरयू व घाघरा नदियां ओवर-फ्लो होकर खतरे के निशान से ऊपर बह रही है जिससे पूरे तराई क्षेत्र में भयावह स्थित उत्पन्न हो रही है.

ये भी पढ़ें: असम में 10 नदियों में भीषण बाढ़; 45 की मौत, 31 हजार लोग राहत शिविरों में


नदियों के उफान से जिले की चार तहसीलों के लगभग पांच दर्जन से अधिक गांव प्रभावित हैं. साथ ही दुधवा नेशनल पार्क के निचले इलाके पूरी तरह से जलमग्न हो गए हैं जिससे जंगली जीव जन्तुओं के सामने भी समस्या उत्पन्न हो गई है और यही कारण है कि जंगली जानवर जंगलों से बाहर निकल कर आबादी वाले क्षेत्रों में हिंसक जीव भोजन की तलाश में मानव के साथ संघर्ष करने को विवश है.

ये भी पढ़ें: देखें, 'सियाचिन पायनियर्स' ने खराब मौसम के बीच विदेशी सैलानियों को कैसे बचाया

पलिया तहसील के मरौचा, श्रीनगर, ढखिया, रामनगर, दम्बलटाडा, शान्तीनगर घोला, सुमेरनगर, पटिहन, नयापुरवा, खालेपुरवा, लिया कर पुरवा, भगवंत नगर, चैखडा फार्म के आबादी वाले क्षेत्र में जल भराव ग्रामीणों के लिए बड़ी समस्या है. निघासन-तिकोनिया क्षेत्र में मोहाना नदी का जलस्तर बढ़ने से बाढ़ का पानी कई गांवो में घुस कर भीषण समस्या कर रहा है. 

वीडियो: उत्तराखंड के कई इलाकों में भारी बारिश

टिप्पणियां

पहाड़ों पर बरसात के चलते पहाड़ी नदियों का जलस्तर बढ़ने से मोहाना व करनाली नदियों में जलस्तर बढ़ने से तिकुनिया व कौड़ियाला घाट के बीच बने रपटा पुल के ऊपर बाढ़ का पानी बह रहा है. भारत नेपाल सीमा के अंतर्गत बह रही नदियों से दोनों देशों का आवागमन भी ठप हो गया है.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... अमित शाह बोले- Wi-Fi ढूंढ़ते हुए बैटरी खत्म हो गई, तो केजरीवाल ने दिया जवाब- 200 यूनिट बिजली फ्री है, चार्ज कर लीजिए

Advertisement