कर्नाटक में बाढ़ से हालात गंभीर, प्रभावितों को देनी होगी अधिक राहत : येदियुरप्पा

कर्नाटक (Karnataka) मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने बाढ़ प्रभावित जिलों का हवाई सर्वेक्षण किया. राज्य बाढ़ग्रस्त इलाकों के लिए केंद्र से ज्यादा आर्थिक मदद मांगेगा.

कर्नाटक में बाढ़ से हालात गंभीर, प्रभावितों को देनी होगी अधिक राहत : येदियुरप्पा

कर्नाटक के चार जिलों में भीमा नदी ने मचा रखी है तबाही

बेंगलुरु:

कर्नाटक के (Karnataka) मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने माना है कि राज्य में बाढ़ (Flood Situation) की स्थिति गंभीर हो गई है. उन्होंने एक दिन पहले ही बाढ़ प्रभावित जिलों का हवाई सर्वेक्षण किया. राज्य बाढ़ग्रस्त इलाकों के लिए केंद्र से ज्यादा आर्थिक मदद मांगेगा.

येदियुरप्पा ने कहा कि इस साल बाढ़ की स्थिति पिछले वर्ष की तुलना में ज्यादा गंभीर है. मुख्यमंत्री राज्य सचिवालय में कैबिनेट की बैठक से पहले उन्होंने कहा कि आर्थिक मदद के लिए केंद्र को अवगत कराया गया है. उन्होंने कहा कि बड़ी संख्या में मकान और फसल नष्ट हुई है. बाढ़ पीड़ितों को बड़े पैमाने पर राहत देने की जरूरत है. लिहाजा केंद्र सरकार को पूरी जानकारी दी गई है. कैबिनेट बैठक में बाढ़ प्रभावित लोगों को अधिक राहत देने को लेकर निर्णय लिया जाएगा.

Newsbeep

येदियुरप्पा ने बुधवार को विजयापुर, कलबुर्गी, यादगीर और रायचूर जिलों का हवाई सर्वेक्षण किया था. इन जिलों में पिछले नौ दिनों से भीमा नदी में बाढ ने तबाही मचाई है. सेना और राष्ट्रीय और राज्य आपदा प्रतिक्रिया बल के जवान इस क्षेत्र में बचाव कार्य में लगे हुए हैं.येदियुरप्पा ने भरोसा दिया कि बाढ़ पीड़ितों को राहत पहुंचाने में धन की कोई कमी नहीं होगी. प्रभावित परिवारों को पहले से ही 10,000 रुपये की आर्थिक सहायता दी गई है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


पिछले साल के मुकाबले इस बार अधिक मुआवजा दिया जाएगा. कर्नाटक आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के आयुक्त मनोज राजन के अनुसार, चार बाढ़ प्रभावित जिलों में 247 अधिक प्रभावित गांवों की पहचान की गई है. जबकि 136 गांवों में 43,158 लोगों को सुरक्षित जगह पहुंचाया गया है.जिला प्रशासन ने 205 राहत शिविर खोले हैं, जहां 37,931 लोग रह रहे हैं.
 



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)