NDTV Khabar

यूपी-बिहार में नहीं थम रहा बारिश का कहर: सौ से ज्यादा की मौत, जेल और अस्पताल में भी भरा पानी, स्कूल और कॉलेज बंद

बिहार की राजधानी पटना के अस्पताल में पानी घुसने की वजह से मरीजों को दूसरी जगह शिफ्ट किया जा रहा है. बारिश की वजह से दोनों राज्यों में अभी तक कुल 113 लोगों की मौत की सूचना है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
यूपी-बिहार में नहीं थम रहा बारिश का कहर: सौ से ज्यादा की मौत, जेल और अस्पताल में भी भरा पानी, स्कूल और कॉलेज बंद

प्रतीकात्मक चित्र

नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश और बिहार में बीते तीन दिनों से हो रही मुसलाधार बारिश की वजह से आम जनजीवन अस्तव्यस्त है. लगातार हो रही बारिश की वजह से स्कूल,कॉलेज, अस्पताल से लेकर जेल तक में पानी भर गया है. ऐसे में राज्य सरकार ने ऐहतियातन स्कूल और कॉलेजों को अगले कुछ दिनों के लिए बंद रखने का निर्देश दिया है. बिहार की राजधानी पटना के अस्पताल में पानी घुसने की वजह से मरीजों को दूसरी जगह शिफ्ट किया जा रहा है. बारिश की वजह से दोनों राज्यों में अभी तक कुल 113 लोगों की मौत की सूचना है. न्यूज एजेंसी Reuters के अनुसार उत्तर प्रदेश में भारी बारिश की वजह से अभी तक 93 लोगों की मौत की खबर है.

उत्तर प्रदेश -बिहार के लिए अगले 48 घंटे बेहद अहम, मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी


वहीं, नदियों का जलस्तर बढ़ने की वजह से जेल तक में पानी भर गया है. ऐसे में प्रशासन ने बलिया जेल में बंद 900 कैदियों को दूसरी जेल में शिफ्ट किया है.  बता दें इन दोनों ही राज्य में मानसून के बाद एकाएक हुई इतनी बारिश से बाढ़ जैसे हालात बने हैं. इन दोनों ही राज्यों में NDRF की कई टीमें फंसे लोगों को निकालने के लिए राहत और बचाव कार्य में लगीं हैं. 

टिप्पणियां

बारिश, बाढ़ ने बढ़ाई किसानों की बेचैनी, रबी की बुवाई में होगी देरी

प्रभावित इलाकों में लोगों को बचाने के लिए नावों को तैनात किया. बिहार के आपदा राहत विभाग में अतिरिक्त सचिव अमोद कुमार शरण ने कहा, 'बारिश बंद हो गई है, लेकिन कई इलाकों में जलभराव है.' सोमवार को अपने बुलेटिन में, भारत के मौसम विभाग ने कहा कि बिहार में बारिश की तीव्रता कम होने की काफी संभावना है. वहीं, उत्तर प्रदेश में इस सप्ताह भी बारिश होने की संभावना है. मौसम विभाग के अधिकारियों ने कहा कि इस महीने मानसून की बारिश छह साल में पहली बार औसत से अधिक रहने की संभावना है.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement