NDTV Khabar

'फ्लाइंग सिख' मिल्खा सिंह डब्ल्यूएचओ के सदभावना दूत बने

फ्लाइंग सिख के नाम से मशहूर मिल्खा डब्ल्यूएचओ सीयर की गैर संक्रामक बीमारियों से बचाव और उन पर काबू करने की योजनाओं का प्रचार करेंगे.

66 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
'फ्लाइंग सिख' मिल्खा सिंह डब्ल्यूएचओ के सदभावना दूत बने

मिल्खा सिंह. (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. मिल्खा गैर संक्रामक बीमारियों से बचाव की योजनाओं का प्रचार करेंगे
  2. दक्षिण पूर्व एशिया की क्षेत्रीय निदेशक पूनम खेत्रपाल ने दी जानकारी
  3. दक्षिण पूर्व एशिया में गैर संक्रामक बीमारियों से हर साल करीब 85 लाख मौतें
नई दिल्ली: देश के महान फर्राटा धावक मिल्खा सिंह को विश्व स्वास्थ्य संगठन ( डब्ल्यूएचओ) ने दक्षिण पूर्वी एशिया क्षेत्र में फिटनेस संबंधी गतिविधियों के लिए सद्भावना दूत बनाया है. फ्लाइंग सिख के नाम से मशहूर मिल्खा डब्ल्यूएचओ सीयर की गैर संक्रामक बीमारियों से बचाव और उन पर काबू करने की योजनाओं का प्रचार करेंगे.

यह भी पढ़ें : मैं पूरे जीवन में सिर्फ 5 बार रोया हूं, घरवालों की हत्या दिल दहला देने वाला पल था : मिल्खा सिंह

VIDEO:  मिल्खा को हराने वाले एथलीट मक्खन सिंह के परिवार को मदद



डब्ल्यूएचओ की दक्षिण पूर्व एशिया की क्षेत्रीय निदेशक पूनम खेत्रपाल ने कहा, स्वास्थ्य के लिए फिटनेस संबंधी गतिविधियों को बढ़ावा देना अहम है. मिल्खा सिंह जैसे महान एथलीट के इससे जुड़ने से इसे और कामयाबी मिलेगी. उन्होंने कहा कि हर साल डब्ल्यूएचओ दक्षिण पूर्व एशिया में गैर संक्रामक बीमारियों से करीब 85 लाख मौतें होती हैं. ये सभी जीवनशैली से जुड़ी समस्याओं को लेकर है. नियमित व्यायाम से हृदय रोग हृदयाघात, मधुमेह और कैंसर जैसी गैर संक्रामक बीमारियों का खतरा कम हो सकता है.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement