NDTV Khabar

राफेल पर बवाल: राहुल पर अरुण जेटली का पलटवार- पब्लिक डिस्कोर्स लाफ्टर चैलेंज नहीं कि आप किसी को गले लगाओ या आंख मारो

राफेल सौदे (Rafale Deal) पर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के दावे के बाद  बैकफुट पर आ रही मोदी सरकार के वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के आरोपों पर पलटवार किया है .

2.2K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
राफेल पर बवाल: राहुल पर अरुण जेटली का पलटवार- पब्लिक डिस्कोर्स लाफ्टर चैलेंज नहीं कि आप किसी को गले लगाओ या आंख मारो

Rafale Deal: अरुण जेटली ने राहुल गांधी पर पलटवार किया

नई दिल्ली: राफेल सौदे पर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के दावे के बाद  बैकफुट पर आ रही मोदी सरकार के वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के आरोपों पर पलटवार किया है और सीधा हमला बोला है. राफेल पर मचे बवाल के बाद अरुण जेटली ने राहुल गांधी के गले लगने और आंख मारने वाली घटना पर तंज कसा है और उनकी भाषा को लेकर भी उनकी बुद्धि पर सवाल उठाया है.  दरअसल, फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के ने राफेल सौदे को लेकर खुलासा किया कि करीब 58,000 करोड़ रुपए के राफेल करार में दसाल्ट एविएशन के लिए साझेदार के तौर पर रिलायंस डिफेंस के नाम का प्रस्ताव भारत सरकार ने ही रखा था और फ्रांस के पास कोई अन्य विकल्प नहीं था. 

पीएम मोदी को चोर कहे जाने पर राहुल गांधी को लेकर अरुण जेटली ने कहा कि पब्लिक डिस्कोर्स लाफ्टर चैलेंज नहीं है, आप किसी को हग कर लो, आंख मार लो और फिर गलत बयान देते रहो. लोकतंत्र में प्रहार होते हैं, लेकिन शब्दावली ऐसी हो जिसमें बुद्धि दिखाई दे. 
 
फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के बयान पर अरुण जेटली ने कहा कि मुझे बिल्कुल हैरानी नहीं होगी अगर यह सब पहले से ही सुनियोजित निकलेगा. 30 अगस्त को राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा था, 'पेरिस में कुछ धमाके होने वाले हैं' और उसके बाद वही हुआ जैसा कि उन्होंने कहा था. ओलांद के बयान पर वित्त मंत्री अरुण जेटली आगे कहते हैं कि 30 अगस्त को ट्वीट करते हैं कि फ्रांस के अंदर कुछ बॉम्ब चलने वाले हैं.  यह उनको (राहुल गांधी) कैसे मालूम कि बयान ऐसा आने वाला है. ये जो जुगलबंदी है इस तरह की, मेरे पास सबूत नहीं हैं लेकिन मन में प्रश्न खड़ा होता है.
 
राफेल पर तकरार: फ्रांस्वा ओलांद के खुलासे के बाद कांग्रेस और मोदी सरकार के बीच जुबानी जंग शुरू, 15 प्वाइंट्स में जानें पूरा विवाद

ओलांद के बयान पर वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि कांग्रेस किसी भी चीज में विश्वास कर सकती है लेकिन आपको मूलभूत तौर तरीके याद रहने चाहिए जो हजारों सालों से चले आ रहे हैं, जो 'लोग गलत तथ्य दे सकते हैं लेकिन परिस्थितियां झूठ नहीं बोलती' के तर्ज पर आज भी कायम है.

राफेल डील पर तमाम आरोप-प्रत्यारोपों के बीच दसाल्ट एविएशन के CEO का वीडियो सामने आया

आगे अरुण जेटली ने कहा कि अगर दर्जनों भारतीय कंपनियां यह कहती हैं कि 56 हजार करोड़ रुपये के एक कॉन्ट्रैक्ट में से 28 हजार करोड़ ऑफसेट के लिए जाने हैं और हम उन 20 कंपनियों में शामिल होना चाहते हैं जो ऑफसेट की आपूर्ति करने जा रहे हैं. यानी हर एक को 2 से 4 हजार करोड़ रुपये मिलेगा. तो फिर यह घोटाला और अप्रासंगिक कैसे हुआ?

राफेल डील पर कांग्रेस के आरोपों पर सीतारमण का पलटवार, कहा- “राहुल का पूरा खानदान चोर”

राहुल गांधी के 'राफेल डील सेना पर सर्जिकल स्ट्राइक है' ट्वीट पर अरुण जेटली ने कहा कि यह बेहद आपत्तिजनक टिप्पणी है. सर्जिकल स्ट्राइक एक ऐसी चीज है जिस पर भारत को गर्व है. अगर आप इसे आपत्तिजनक तरह से देखते हैं तो आपकी देशभक्ति पर सवाल उठना लाज़मी है.

क्या राहुल ने पाकिस्तान के साथ मिलकर पीएम मोदी के खिलाफ ‘महागठबंधन’ बनाया है : अमित शाह

टिप्पणियां
आखिर राहुल के बयान पर पीएम मोदी ने अभी तक क्यों नहीं कुछ बोला, सवाल पर अरुण जेटली ने कहा कि मैं आपको बता दूं कि जिन्हें बोलना था वो बोल चुके. सिर्फ इसलिए कि कोई झूठ और असभ्य भाषा का सहारा ले रहा है तो जरूरी नहीं कि पीएम मोदी भी इसमें डिबेट में भाग लें. आगे उन्होंने कहा कि किसी के कुछ भी कहने से, आरोप लगाने से राफेल डील कैंसिल नहीं होगी. 

VIDEO: राफेल मुद्दे पर कांग्रेस पर बरसी बीजेपी


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement