NDTV Khabar

राफेल पर वित्त मंत्री अरुण जेटली का पलटवार: यह बहस प्राइमरी स्कूल की तरह है, कांग्रेस अब बेवकूफ नहीं बना सकती

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने राफेल के मुद्दे पर कांग्रेस के आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया है. समाचार एजेंसी एएनआई को दिये इंटरव्यू में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने राहुल गांधी के सारे आरोपों पर पलटवार किया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
राफेल पर वित्त मंत्री अरुण जेटली का पलटवार: यह बहस प्राइमरी स्कूल की तरह है,  कांग्रेस अब बेवकूफ नहीं बना सकती

ऱाफेल पर बोलते वित्त मंत्री अरुण जेटली

नई दिल्ली: वित्त मंत्री अरुण जेटली ने राफेल के मुद्दे पर कांग्रेस के आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया है. समाचार एजेंसी एएनआई को दिये इंटरव्यू में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने एक-एक कर राहुल गांधी और कांग्रेस के सारे आरोपों पर न सिर्फ जवाब दिया है, बल्कि पलटवार भी किया . अरुण जेटली ने एक लंबे इंटरव्यू में कहा कि कांग्रेस ने राफेल की कीमत पर जो भी तथ्य सामने रखे हैं, वह सभी गलत हैं. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने 2007 राफले डील के संबंध में खुद अलग-अलग भाषणों में 7 अलग-अलग कीमतों का जिक्र किया है. साथ ही अरुण जेटली ने यह भी कहा कि यूपीए सरकार ने देश की सुरक्षा के साथ समझौता किया था. अरुण जेटली ने कहा कि राहुल गांधी को राफेल को लेकर कोई समझ नहीं है. पता नहीं उन्हें इसकी कब समझ होगी. 

राफेल घोटाले पर फिर बरसी कांग्रेस, कहा- मनोहर पर्रिकर को सब कुछ पता था, उनकी चुप्पी देश के साथ धोखा

राफेल सौदे को लेकर लगाए जा रहे आरोपों को केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली ने किंडरगार्टन या प्राइमरी स्कूल के बच्चों जैसी बहस करार दिया है. उन्होंने कहा, "मैं 500-कुछ दे रहा था, आपने 1600-कुछ दिए हैं... यह तर्क दिया जा रहा है... यह दिखाता है कि उन्हें (राहुल गांधी को) कितनी कम समझ है..." अरुण जेटली ने आगे कहा कि 2015 से 2016 के बीच सौदे पर कई चरणों में बातचीत हुई और 2016 में इस डील पर अंतिम मुहर लगी. करेंसी में उतार चढ़ाव की वजह से सौदे की कीमत में बदलाव हुआ. इस तरह राफेल विमानों की कीमत बेसिक प्राइस से 9 फीसद कम हुई. क्या कांग्रेस को इस तथ्य की जानकारी नहीं है? अरुण जेटली ने कहा कि राष्ट्रीय पार्टी से इस प्रकार की उम्मीद की जाती है कि कोई भी आरोप लगाने से पहले वह तथ्यों की जांच करें. उन्होंने कहा कि यूपीए की सरकार ने इस डील में करीब एक दशक की देरी की, जिसका सीधा असर राष्ट्रीय सुरक्षा पर पड़ा.

'राफेल घोटाले पर सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाने को लेकर दुविधा में हूं, वहां भी है भ्रष्टाचार'

राफेल डील को लेकर पूर्व केंद्रीय मंत्रियों तथा BJP नेताओं अरुण शौरी व यशवंत सिन्हा द्वारा की जा रही आलोचना के जवाब में अरुण जेटली ने कहा, "NDA में, विशेषकर BJP में हमारी त्रासदी यह है कि हमारे पास 'करियर नेशनलिस्ट' बहुत हैं... वे हमारे साथ रहकर तब तक राष्ट्रवादी रहते हैं, जब तक वैसा बने रहने में उनके करियर को फायदा होता है... मैं उन्हें ज़्यादा विश्वसनीय नहीं मानता..." आगे केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली ने कहा, "मैं कम से कम दो बार यह वाक्य दोहरा चुका हूं - कितना वह (राहुल गांधी) जानते हैं, और कब वह जानेंगे...? क्या आप बेसिक विमान और एक्सेससरीज़ से लदे विमान की कीमत की तुलना कर सकते हैं...? क्या आप एक साधारण विमान और हथियारों से लैस विमान की तुलना कर सकते हैं...?"

टिप्पणियां
राफेल डील को लेकर केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली ने आगे कहा, "कांग्रेस को यह याद रखना होगा कि वह जनता को हर समय बेवकूफ नहीं बना सकती है... यह दो सरकारों के बीच हुआ सौदा है... भारत सरकार 36 फुली-लोडेड विमान फ्रांस से खरीदेगी, किसी प्राइवेट कंपनी या संस्था का कोई दखल नहीं... सरकार की भूमिका भी खत्म..."
  आगे जेटली ने कहा कि अगर आप राष्ट्रपति मैक्रॉन के कथन को गलत तरीके से क्योट करने की सीमा को पार कर सकते हैं और कह रहे हैं कि उन्होंने आपको आगाह किया कि इस सौदे में कोई गोपनीयता क्लॉज नहीं है, तो फ्रांसीसी सरकार ने इसे इनकार कर दिया है. भारत सरकार ने संसद में गोपनीयता कारण दिखाया और फिर आप पलटी मारते हैं और कहते हैं- "होगा पर मैं नहीं मानता.

VIDEO: रफाल मुद्दे पर मोदी सरकार के खिलाफ कांग्रेस का प्रदर्शन


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
 Share
(यह भी पढ़ें)... मायावती-जोगी ने दिलचस्प बनाया चुनाव...

Advertisement