NDTV Khabar

महाराष्ट्र: ग्रुप C और D के लिए निकले 4400 पदों के लिए आए 8 लाख आवेदन, विपक्ष ने दागे सवाल

 चुनाव नजदीक है इसलिए केंद्र हो या राज्य सरकारें, लोक लुभावन सौगातों के साथ नौकरियों के विज्ञापन भी निकालने शुरू कर दिए हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नई दिल्ली:

महाराष्ट्र देश के अग्रणी राज्यों में माना जाता है. लेकिन हाल ही में मेगा भर्ती के तौर पर निकाली गई 4400 पदों की नौकरी के लिए आये तकरीबन 8 लाख आवेदनों ने राज्य में बेरोजगारी की समस्या को उजागर कर दिया है. विपक्ष सवाल कर रहा है कहां है रोजगार ?  चुनाव नजदीक है इसलिए केंद्र हो या राज्य सरकारें, लोक लुभावन सौगातों के साथ नौकरियों के विज्ञापन भी निकालने शुरू कर दिए हैं. महाराष्ट्र सरकार ने भी हाल में मेगा भर्ती के तहत नौकरियों के लिए विज्ञापन निकाले हैं. लेकिन अब उसके लिए आये आवेदनों की संख्या देख उसके भी हांथ पांव फूलने लगे हैं.

पीएम मोदी ने बताया, 55 महीने के दौरान कितने लोगों को मिली नौकरियां


आपको बता दें कि अलग-अलग विभागों के तृतीय और चतुर्थ श्रेणी के लिये कुल 4410 पदों को भरना है. लेकिन अब तक 7.88 लाख आ चुके हैं. मतलब एक पद के लिए औषतन 179 आवेदन. लिहाजा विपक्ष को बैठे बिठाए सरकार को घेरने का मौका मिल गया है. कांग्रेस के पूर्व सांसद मिलिंद देवड़ा ने ट्वीट कर सरकार से पूछा है कहां है नौकरी ?

टिप्पणियां

RRB Group D Result: अभी तय नहीं हुई रिजल्ट की तारीख, जानिए आरआरबी अधिकारी ने क्या कहा

सबसे ज्यादा आवेदन फॉरेस्ट गॉर्ड के लिए आये हैं. सिर्फ 1218 पदों के लिए 4.3 लाख आवेदन हैं. वनमंत्री का कहना है कि ये सब कांग्रेस सरकार की दशकों की निष्क्रियता का परिणाम है , मौजूदा सरकार स्किल इंडिया और स्टार्टअप जैसी योजनाओं के जरिये रोजगार उपलब्ध कराने में लगी हैं.  सरकारी तर्क कुछ भी हो लेकिन ये भी सच है कि 45 साल में सबसे ज्यादा बेरोजगारी वर्तमान सरकार के समय में बढ़ी है. जाहिर है सरकार के सामने दोहरी चुनौती है पहली बेरोजगारी पर काबू पाना दूसरी एक पद के लिए सैकड़ों आवेदनों में से सही उम्मीदवार का चयन करना है. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement