NDTV Khabar

पूर्व वित्त मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली के निधन पर पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ-साथ विपक्ष के नेताओं ने भी जताया दुख

अरुण जेटली (Arun Jaitley) के निधन पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद समेत बीजेपी और अन्य राजनीतिक पार्टियों के नेताओं ने गहरा दुख जताया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पूर्व वित्त मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली के निधन पर पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ-साथ विपक्ष के नेताओं ने भी जताया दुख

अरुण जेटली के निधन पर पीएम मोदी जताया दुख

नई दिल्ली:

पूर्व वित्त मंत्री और भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली (Arun Jaitley) का लंबी बीमारी के बाद शनिवार को निधन हो गया. उन्होंने एम्स में अंतिम सांस ली. बता दें कि अरुण जेटली का लंबी बीमारी के बाद शनिवार को निधन हो गया. उन्होंने एम्स में अंतिम सांस ली. उनके निधन पर बीजेपी के नेताओं के साथ-साथ विपक्षी नेताओं ने भी दुख व्यक्त किया. अरुण जेटली के निधन पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद समेत बीजेपी और अन्य राजनीतिक पार्टियों के नेताओं ने गहरा दुख जताया है. उनके निधन की सूचना मिलने के बाद रामनाथ कोविंद ने ट्वीट किया. उन्होंने लिखा कि मैं अरुण जेटली के निधन से दुखी हूं. वह शानदार वकील थे और राष्ट्र के निर्माण में उनका बड़ा योगदान था.


वहीं , पीएम मोदी ने भी अरुण जेटली के निधन पर शोक जताया है.उन्होंने कहा कि अरुण जेटली और मेरे बीच काफी घनिष्ट संबंध थे. वह एक तेज तर्रार नेता थे. इमरजेंसी के दौरान लोकतंत्र की रक्षा करने में सबसे आगे खड़े लोगों  में शामिल थे. साथ ही वह हमारे पार्टी में सबसे ज्यादा पसंद किए जाने वाले चेहरे में से एक थे.

देश के गृहमंत्री और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि मैं अरुण जेटली के निधन से काफी आहत हूं. यह व्यक्तिगत क्षति की तरह है. मैंने सिर्फ पार्टी के वरिष्ठ नेता को ही नहीं बल्कि परिवार के एक सदस्य को भी खो दिया है.

वहीं, देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी अरुण जेटली के निधन पर दुख जताया है. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि मेरे दोस्त और सहयोगी अरुण जेटली के निधन से गहरा दुख पहुंचा है. वे पेशे से एक कुशल वकील और जुनून से कुशल राजनीतिज्ञ थे. 

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी अरुण जेटली के निधन पर भी अपनी प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने कहा कि अरुण जेटली जी का जाना देश और समाज की ऐसी अपूरणीय क्षति है जिसकी रिक्तता का अहसास हम लंबे समय तक करते रहेंगे. ईश्वर से प्रार्थना है कि पुण्यात्मा को वे अपने श्री चरणों में स्थान दें और परिजनों को इस अपार दुःख को सहन करने की शक्ति दें.

पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली के निधन पर कांग्रेस पार्टी ने भी शोक जताया है. पार्टी ने कहा कि कांग्रेस: अरुण जेटली के निधन की खबर से बहुत दुख हुआ. हमारी संवेदनाएं उनके परिवार के साथ हैं.

उधर, पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने भी अरुण जेटली के निधन को राष्ट्र के लिए एक बड़ी क्षति बताई है. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली के निधन की ख़बर से दुखी हूं. दुख की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं उनके परिवार के साथ हैं. ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दे. 

अरुण जेटली के निधन पर आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री ने जताया दुख. वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने अरुण जेटली के निधन की सूचना मिलने के बाद एक ट्वीट किया है. उन्होंने लिखा कि अरुण जेटली के निधन की खबर से मैं बहुत दुखी हूं. उन्होंने अपने चार दशक के राजनीतिक करियर में पार्टी और देश के लिए बड़ा योगदान दिया है. दुख की इस घड़ी में मेरी संवेदना परिवार के साथ है. 

वहीं, यूपी की पूर्व मुख्यमंत्री और बसपा प्रमुख मायावती ने भी अरुण जेटली के निधन को राष्ट्र के लिए एक बड़ा नुकसान बताया है. उन्होंने ट्वीट किया कि पूर्व केन्द्रीय वित्त/रक्षा मंत्री व बीजेपी के प्रमुख नेता श्री अरुण जेटली के निधन की खबर अति-दुःखद. वे बीमार थे व उनका हालचाल लेने हाल ही में मैं एम्स गयी थी. वे नामी वकील व अच्छे इंसान थे. देश की राजनीति में उनके योगदान को भुलाया नहीं जा सकेगा. उनके परिवार के प्रति गहरी संवेदना.

यूपी की पूर्व मुख्यमंत्री और सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने भी अरुण जेटली के निधन पर ट्वीट किया. उन्होंने लिखा कि श्री अरुण जेटली जी एक कुशल वक़्ता, सफल अधिवक्ता और सौम्य राजनीतिज्ञ के रूप में सदैव स्मरणीय रहेंगे. विनम्र श्रद्धांजलि! ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करे. शोकाकुल परिजनों के प्रति हार्दिक संवेदना.

उधर, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अरुण जेटली के निधन पर कहा कि अरुण जेटली जी के निधन से बेहद दुखी हूं. एक बेहतरीन सांसद एवं बेमिसाल वकील, सभी दल उनका सम्मान करते थे. भारतीय राजनीति में उनके योगदान को याद किया जाएगा. उनकी पत्नी, बच्चों, दोस्तों और प्रशंसकों के साथ मेरी संवेदनाएं हैं.

टिप्पणियां



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement