NDTV Khabar

पूर्व PM मनमोहन सिंह करतारपुर गलियारे के औपचारिक उद्घाटन में शामिल नहीं होंगे : सूत्र 

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह (Manmohan Singh) पाकिस्तान में करतारपुर गलियारे (Kartarpur Corridor) के उद्घाटन के लिए आयोजित औपचारिक समारोह में शामिल नहीं होंगे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पूर्व PM मनमोहन सिंह करतारपुर गलियारे के औपचारिक उद्घाटन में शामिल नहीं होंगे : सूत्र 

पूर्व पीएम डॉ. मनमोहन सिंह (फाइल फोटो)

नई दिल्ली/इस्लामाबाद:

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह (Manmohan Singh) पाकिस्तान में करतारपुर गलियारे (Kartarpur Corridor) के उद्घाटन के लिए आयोजित औपचारिक समारोह में शामिल नहीं होंगे, लेकिन एक आम श्रद्धालु की तरह वहां जाएंगे. सूत्रों ने रविवार को यह जानकारी पाकिस्तान के विदेशमंत्री शाह महमूद कुरैशी के दावे के बाद दी जिसमें उन्होंने कहा था कि मनमोहन सिंह ने उद्घाटन समारोह में शामिल होने के न्योते को स्वीकार कर लिया है. डान अखबार के मुताबिक कुरैशी ने अपने गृहनगर मुल्तान में शनिवार को पत्रकारों से कहा कि डॉ. सिंह ने उनका न्योता स्वीकार कर लिया है और तय उद्घाटन समारोह में विशेष अतिथि के बजाय आम आदमी की तरह शामिल होंगे.  

भारत ने पाकिस्तान से कहा- करतारपुर जाने वाले भारतीय श्रद्धालु से नहीं वसूला जाए 20 डालर सेवा शुल्क


डॉ.सिंह के करीबी सूत्रों ने नयी दिल्ली में कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री औपचारिक उद्घाटन समारोह में शामिल नहीं होंगे. उन्होंने बताया कि पाकिस्तानी प्रशासन की ओर से भेजे गए न्योते के जवाब में सिंह ने कहा कि वह औपचारिक समारोह में शामिल नहीं होंगे लेकिन एक आम श्रद्धालु की तरह ऐतिहासिक तीर्थस्थल का दर्शन करेंगे. डॉ.सिंह सिख जत्थे का हिस्सा होंगे जिसका नेतृत्व पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह करेंगे. वे करतापुर के गुरुद्वारे में मत्था टेकने के बाद उसी दिन लौट आएंगे. उल्लेखनीय है कि प्रस्तावित गलियारा पाकिस्तान के करतारपुर स्थित दरबार सहिब को भारत के पंजाब प्रांत के गुरदासपुर स्थित डेरा बाबा नानक गुरुद्वारे से जोड़ेगा और इस गलियारे में भारतीय श्रद्धालुओं को बिना वीजा आने जाने की अनुमति होगी.  

टिप्पणियां

करतारपुर कॉरीडोर: केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर ने किया एलान, 8 नवंबर को पीएम मोदी करेंगे उद्घाटन

हालांकि, उन्हें करतारपुर साहिब जाने के लिए परमिट लेना होगा, जिसकी स्थापना स्वयं सिखों के पहले गुरु, गुरु नानक देवजी ने 1522 में की थी. पाकिस्तान, भारतीय सीमा से करतारपुर के गुरुद्वारा दरबार साहिब तक गलियारा बना रहा है जबकि बाकी के हिस्से, सीमा से पंजाब के डेरा बाबा नानक तक के गलियारे का निर्माण भारत कर रहा है. कुरैशी ने बताया कि प्रधानमंत्री इमरान खान पाकिस्तान के हिस्से वाले गलियारे का उद्घाटन करेंगे जिससे रोजाना 5,000 भारतीय श्रद्धालुओं को पवित्र स्थल के दर्शन करने की सुविधा मिलेगी. 



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement