NDTV Khabar

भोपाल जेल से फरार सिमी आतंकियों में से तीन का पुणे धमाके में भी था हाथ!

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भोपाल जेल से फरार सिमी आतंकियों में से तीन का पुणे धमाके में भी था हाथ!

पुणे के थाने के बाहर धमाके के आरोपी

मुंबई:

भोपाल सेंट्रल जेल से फरार होने के बाद मुठभेड़ में मारे गए 8 सिमी आतंकियों में से तीन पर पुणे के फारसखाना पुलिस थाने के पास हुए धमाके में भी शामिल होने का शक था. पुणे के फारसखाना पुलिस थाने की पार्किंग में 10 जुलाई 2014 को एक मोटर साइकिल में धमाका हुआ था.

धमाके में सड़क पर चल रहे 2 लोग जख्मी हो गए थे. महाराष्ट्र एटीएस ने चश्मदीदों के बयान और सीसीटीवी के आधार पर दो लोगों का स्केच बनाया था. उन्हीं दोनों ने बम लगी मोटर साइकिल थाने के पास खड़ी की थी.

टिप्पणियां

जांच में पता चला कि साल 2013 में खंडवा जेल से फरार आरोपियों में से 4 के उस धमाके में शामिल होने का शक हुआ था. साल 2015 में जब तेलंगाना पुलिस ने खंडवा जेल से फरार आरोपियों को पकड़ा था. तब पुणे एटीएस ने पूछताछ भी की थी.
आज सुबह भोपाल की जेल से फरार होने की खबर के बाद महाराष्ट्र एटीएस सूत्रों ने फरार आरोपियों में पुणे फारसखाना धमाके में संदिग्ध होने की पुष्टि की है.


एटीएस सूत्रों के मुताबिक फारसखाना बम धमाके में मेहबूब उर्फ़ गुड्डू, सालिक, अमजद और ज़ाकिर को आरोपी बनाया गया था और तेलंगाना पुलिस से पकड़े जाने के पहले सभी पर 10 लाख रुपये का इनाम भी घोषित किया गया था.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement