एक्टर अक्षत उत्कर्ष का बिहार में अंतिम संस्कार, सुसाइड मामले में पिता कराएंगे FIR

बिहार के मुजफ्फरपुर निवासी फिल्म कलाकार अक्षत उत्कर्ष (Akshat Utkarsh) की मुंबई में संदिग्ध अवस्था में मौत हो गई. उनका शव मंगलवार की सुबह पटना हवाई अड्डा और फिर एंबुलेंस से मुजफ्फरपुर लाया गया.

एक्टर अक्षत उत्कर्ष का बिहार में अंतिम संस्कार, सुसाइड मामले में पिता कराएंगे FIR

बिहार के मुजफ्फरपुर निवासी फिल्म कलाकार अक्षत उत्कर्ष (Akshat Utkarsh) - फाइल फोटो

पटना:

बिहार के मुजफ्फरपुर निवासी फिल्म कलाकार अक्षत उत्कर्ष (Akshat Utkarsh) की मुंबई में संदिग्ध अवस्था में मौत हो गई. उनका शव मंगलवार की सुबह पटना हवाई अड्डा और फिर एंबुलेंस से मुजफ्फरपुर लाया गया. परिजनों ने सिकंदरपुर घाट पर अंतिम संस्कार कर दिया. 

मुंबई में स्ट्रगलिंग एक्टर की सन्दिग्ध मौत, परिवार ने पुलिस पर लगाया जांच नहीं करने का आरोप

अक्षत मुंबई के अंधेरी वेस्ट में सुरेश नगर के गोकुल बिल्डिंग में मेरठ की स्नेहा चौहान के साथ लिव इन में रह रहे थे. उनके पिता विजयंत ने बताया कि 27 सितंबर की रात नौ बजे उसने कॉल की थी. कुछ कहना चाह रहा था. हमलोग उस समय श्रीकृष्णा देख रहे थे. उसने इसके बाद बात करने को कहा. सीरियल खत्म होने के बाद जब हमने कॉल की तो उधर से कोई जवाब नहीं आया. बाद में स्नेहा ने ही कॉल करके उसके खुदकुशी करने की सूचना दी.

अपने माता-पिता की इकलौते संतान अक्षत अगस्त 2018 से फिल्मी नगर मुंबई में संघर्ष कर रहे थे. विगत छह माह से स्नेहा के साथ रहे थे. उनके पिता ने आरोप लगाया कि जिस तरह से उनके पैर मुड़े हुए थे इससे आशंका होती है कि हत्या के बाद इस घटना को खुदकुशी का रूप देने की कोशिश की गई. उन्होंने कहा कि पुलिस के आने से पहले लाश को पंखे से उतार लिया गया था. मुंबई की पुलिस ने भी सहयोग नहीं किया.

दुकानदार एक साल तक ब्लैकमेल कर करता रहा रेप फिर किडनैप कर की जबरन शादी

कापर अस्पताल में पोस्टमार्टम के बाद जब स्थानीय थाना में मामला दर्ज कराने की कोशिश की गई तो वहां केस लेने से मना कर दिया गया. विजयंत ने बताया कि वे लोग दाह संस्कार समाप्त होने के बाद मुजफ्फरपुर के स्थानीय थाने में मामला दर्ज कराएंगे. घटना के बाद से परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है. सभी इसको न्याय दिलाने की मांग कर रहे. अक्षत ने यहां डीएवी से 10वीं और होली मिशन से 12वीं की पढ़ाई की थी. एमिटी लखनऊ से एमबीए किया था.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

(आत्‍महत्‍या किसी समस्‍या का समाधान नहीं है. अगर आपको सहारे की जरूरत है या आप किसी ऐसे शख्‍स को जानते हैं जिसे मदद की दरकार है तो कृपया अपने नजदीकी मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य विशेषज्ञ के पास जाएं.)

हेल्‍पलाइन नंबर:
AASRA: 91-22-27546669 (24 घंटे उपलब्ध)
स्‍नेहा फाउंडेशन: 91-44-24640050 (24 घंटे उपलब्ध)
वंद्रेवाला फाउंडेशन फॉर मेंटल हेल्‍थ: 1860-2662-345 और 1800-2333-330 (24 घंटे उपलब्ध)
iCall: 022-25521111 (सोमवार से शनिवार तक उपलब्‍ध: सुबह 8:00 बजे से रात 10:00 बजे तक)
एनजीओ: 18002094353 दोपहर 12 बजे से रात 8 बजे तक उपलब्‍ध)