गडकरी ने काले धन पर यूपीए को बनाया निशाना

खास बातें

  • भाजपा ने कहा कि सोनिया को यह साफ करना चाहिए कि सरकार को कौन सी बात स्विस बैंक में धन रखने वाले भारतीयों के नाम का खुलासा करने से रोक रही है।
चेन्नई:

भाजपा अध्यक्ष नितिन गडकरी ने कहा कि सोनिया गांधी को इस बात को स्पष्ट करना चाहिए कि सरकार को कौन सी बात स्विस बैंक में धन रखने वाले भारतीयों के नाम का खुलासा करने से रोक रही है। गडकरी ने भाजपा की तमिलनाडु इकाई की 40 दिनों की यात्रा के समापन अवसर पर आयोजित रैली को संबोधित करते हुए कहा, मैं कांग्रेस पार्टी से लाख टके का एक सवाल पूछना चाहता हूं। आप उन लोगों के नाम का खुलासा क्यों नहीं कर रहे हैं, जिन्होंने स्विस बैंक खातों में धन जमा कर रखा है। उन्होंने मांग की कि भारतीय स्विस बैंक खाताधारकों के नाम सार्वजनिक नहीं किए जाने के कारणों का खुलासा किया जाए। उन्होंने इस मुद्दे पर अपनी पार्टी का दबाव बढ़ाते हुए यह मांग की है। स्विस बैंक में जमा भारतीयों के धन के मुद्दे की उच्चतम न्यायालय कठोर समीक्षा कर रहा है। उच्चतम न्यायालय ने विदेशी बैंकों में जमा काले धन की सूचना दबाए रखने के लिए सरकार को आड़े हाथों लिया है। उसने कहा है कि यह केवल कर वंचना का मामला नहीं, बल्कि चिंता में डाल देने वाला अपराध है, क्योंकि इसमें चोरी और राष्ट्रीय संपत्ति की लूट शामिल है और इसके सुरक्षा से जुड़े प्रभाव हो सकते हैं। गडकरी ने कहा कि यदि स्विस बैंक खातों में जमा काले धन को देश में वापस लाया जा सके, तो इससे नदियों को आपस में जोड़ा जा सकता है। उन्होंने कहा, जब राजग सत्ता में आएगी, तो हम भारत में काले धन को वापस लाएंगे और उसको नदियों को आपस में जोड़ने पर खर्च करेंगे, ताकि पानी की किल्लत वाले दक्षिणी राज्यों की मदद की जा सके। लोगों से नदियों को आपस में जोडने के मुद्दे पर पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम का अनुसरण करने का अनुरोध करते हुए उन्होंने कहा, तमिलों के लिए यह तय करने का समय आ गया है कि वे किसका अनुसरण करना चाहेंगे...अब्दुल कलाम का या राहुल गांधी का, जो नदियों को आपस में जोड़े जाने के खिलाफ हैं।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com