देश में थम नहीं रहे दलित लड़कियों से गैंगरेप के मामले, Hathras के बाद गया में घटना

देश भर में दलित लड़कियों के साथ सामूहिक बलात्कार के मामले थम नहीं रहे हैं. यूपी के हाथरस में दलित युवती के साथ गैंगरेप का मामला शांत भी नहीं पड़ा था कि बिहार के गया में भी ऐसी घटना ने सबको झकझोर दिया है. मामले में दुष्कर्म की शिकार नाबालिग लड़की ने आत्महत्या कर ली.

देश में थम नहीं रहे दलित लड़कियों से गैंगरेप के मामले, Hathras के बाद गया में घटना

गया में नाबालिग दलित लड़की से सामूहिक दुष्कर्म (प्रतीकात्मक फोटो)

गया:

देश भर में नाबालिग दलित लड़कियों के साथ सामूहिक बलात्कार के मामले थम नहीं रहे हैं. यूपी के हाथरस में दलित युवती के साथ गैंगरेप का मामला शांत भी नहीं पड़ा है कि बिहार के गया में भी ऐसा वाकया सामने आया है. इस मामले में दुष्कर्म की शिकार नाबालिग लड़की ने आत्महत्या कर ली.

गया के कोच इलाके में एक दलित लड़की के साथ गैंगरेप की यह सनसनीखेज घटना प्रकाश में आई है. दलित लड़की ने सामूहिक बलात्कार के बाद लोकलज्जा के कारण फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. घटना 29 सितंबर की है. खबर के मुताबिक, 30 सितंबर को पीड़िता अपने पड़ोस के ही परिवार में हुई बर्थडे पार्टी से लौट रही थी. इसी दरमियान गांव के ही दबंग जाति के मनचले लड़कों ने एक सुनसान घर में ले जाकर उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया.

Newsbeep

इस घटना से आहत युवती घर पहुंची और खुद को कमरे में बंद होकर फांसी लगा ली. परिवारवालों ने अनहोनी की आशंका को देखते हुए घर के दरवाजे तोड़ डाले और जब अंदर देखा तो उनके होश उड़ गए. युवती फांसी के फंदे पर झूल रही थी. आनन-फानन में नाबालिग दलित लड़की को अस्पताल ले जाया गया जहां बेहतर इलाज के लिए डॉक्टरों ने उसे पटना रेफर कर दिया. इलाज के दूसरे दिन नाबालिग लड़की ने दम तोड़ दिया.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


हाथरस की घटना की तरह गया में भी पुलिस का अमानवीय व्यवहार सामने आया. पुलिस ने दलित लड़की का पोस्टमार्टम कराया और आनन-फानन में अंतिम संस्कार भी करा दिया गया. बिहार में आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए यह मामला तूल पकड़ सकता है. विपक्षी नेताओं ने इस मुद्दे पर सरकार को घेरना शुरू कर दिया है. उनका कहना है कि इस घटना के बाद बिहार का गया भी हाथरस जैसी घटनाओं से अछूता नहीं रहा गया.