NDTV Khabar

पाकिस्तान की सीमा पर लगेगी 'गणपति बप्पा मोरया' की जयकार, मुंबई से मूर्ति रवाना

मुंबई से पहली गणपति मूर्ति कश्मीर के लिए रवाना हुई, पुंछ में नियंत्रण रेखा से सटे इलाके में होगी स्थापना

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पाकिस्तान की सीमा पर लगेगी 'गणपति बप्पा मोरया' की जयकार, मुंबई से मूर्ति रवाना

मुंबई से जम्मू-कश्मीर के पुंछ के लिए रवाना की गई भगवान गणेश की प्रतिमा.

खास बातें

  1. जम्मू-कश्मीर में एलओसी के समीप मनेगा गणेशोत्सव
  2. गणेशोत्सव में सेना के जवान भी होते हैं शामिल
  3. गणेश प्रतिमा को  'बॉर्डर का राजा' नाम दिया गया
मुंबई:

इस बार पाकिस्तान की सीमा पर गणपति बप्पा मोरया की जयकार होगी. एलओसी पर बप्पा रखवाली करेंगे. संविधान के आर्टिकल 370 के अधिकांश प्रावधान हटाए जाने के बाद पहली गणपति मूर्ति कश्मीर के लिए रवाना का जा रही है.मुंबई में गणेशोत्सव की तैयारियां जोरों पर हैं पर अब जम्मू-कश्मीर में पाकिस्तान से लगी सीमा पर भी गणेशोत्सव की तैयारी की जा रही है. इसके लिए मुंबई से गणेश मूर्ति पूरे धूमधाम से ले जाई जा रही है.

अनुच्छेद 370 हटाने के बाद जम्मू कश्मीर में जारी तनाव के बीच भी गणेश भक्त उत्साह के साथ वहां गणपति ले जा रहे हैं. मुंबई से ले जाई जा रही गणेश मूर्ति को पुंछ में सीमा पर स्थापित किया जाएगा जहां सीमा पर तैनात जवान भी 11 दिन पूजा-अर्चना करते हैं.

पाकिस्तान की सीमा पर 10 दिनों तक तैनात होने जा रहे भगवान गणेश को ले जाने वाली महिला किरण ईशर एक कश्मीरी पंडित हैं जो कि पुंछ में रहती हैं. वे बिल्कुल बॉर्डर से सटे इलाके में गणपति बप्पा की स्थापना करती हैं.  गणेश मूर्ति बंकर नुमा पंडाल में स्थापित की जाती है.

hudq0hjc

प्रतिमा स्थापित करने वालीं किरण ईशर.

किरण ने बताया कि वे पिछले तीन सालों से वहां गणपति उत्सव आयोजित कर रही हैं. इसके लिए मुंबई के राजा की तर्ज पर उस गणेश को  'बॉर्डर का राजा' नाम दिया गया है. गणेश प्रतिमा को ट्रेन से जम्मू ले जाया जाएगा.

VIDEO : बाढ़ पीड़ितों को पैसे देंगे गणेशोत्सव मंडल

टिप्पणियां



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement