NDTV Khabar

गौरी लंकेश हत्‍याकांड: चार्जशीट दाखिल, पर मर्डर केस के 10 महीने बाद भी ये नहीं पता गोली चलाई किसने

गौरी लंकेश हत्याकांड में एसआईटी ने चार्जशीट दाखिल कर दी है, लेकिन हत्याकांड के 10 महीने बीत जाने के बावजूद अब तक ठोस तरीके से एसआईटी ये नहीं बता पाई है कि गोली किसने चलाई थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
गौरी लंकेश हत्‍याकांड: चार्जशीट दाखिल, पर मर्डर केस के 10 महीने बाद भी ये नहीं पता गोली चलाई किसने

गौरलंकेश की फाइल फोटो

खास बातें

  1. हत्याकांड के 10 महीने बीत जाने के बावजूद नहीं चला गोली किसने चलाई
  2. हत्याकांड में सिर्फ आरोपी नवीन कुमार की गिरफ्तारी हुई है
  3. SIT ने गौरी लंकेश हत्याकांड की जांच कर चार्जशीट अदालत में दाखिल की
बेंगलुरू : गौरी लंकेश हत्याकांड में एसआईटी ने चार्जशीट दाखिल कर दी है, लेकिन हत्याकांड के 10 महीने बीत जाने के बावजूद अब तक ठोस तरीके से एसआईटी ये नहीं बता पाई है कि गोली किसने चलाई थी. वैसे तो इस हत्याकांड में सिर्फ आरोपी नवीन कुमार की गिरफ्तारी हुई है. 

क्या पानसरे, दाभोलकर और कलबुर्गी हत्याकांड की भी अहम कड़ी है केटी नवीन?

एसईटी ने गौरी लंकेश हत्याकांड की जांच कर जो चार्जशीट अदालत में दाखिल की है उसी के कुछ पन्ने है, जिनसे पता चलता है कि फॉरेंसिक जांच रिपोर्ट के जरिए पुलिस संदिग्ध और गौरी लंकेश की हत्‍या के बीच समानता है या नहीं ये पता करने की कोशिश कर रही है. इन सबके बावजूद अब तक इस चार्जशीट में उस अपराधी का ठोस तौर पर ज़िक्र नहीं है, जिसने गौरी लंकेश पर गोली चलाई थी.

ऐसे में सवाल ये उठता है कि आखिर गौरी लंकेश पर गोली चलाई किसने. वो दो लोग कौन थे और उनके निशाने पर गौरी लंकेश क्‍यों थी. गौरी लंकेश पर किसने गोली चलाई या तो एसआईटी फिलहाल इसका खुलासा नहीं करना चाहती या फिर अभी एसईटी खुद तय नहीं कर पा रही है, लेकिन मक़सद और हथियार की सप्लाई को लेकर एसआईटी की चार्जशीट बिल्कुल साफ तस्वीर पेश करती है. 

प्रकाश राज ने एक्टर्स पर साधा निशाना, सिर्फ पॉपुलैरिटी कैश कराने के लिए पॉलिटिक्स में न आएं

एसआईटी के मुताबिक़, हथियार नवीन कुमार ने दिए और गोली भी उसी ने मुहैया करवाई. चार्जशीट के मुताबिक, गौरी लंकेश हिन्दू धर्म और हिन्दू देवी देवताओं के खिलाफ लिखती थी. इसकी वजह से उनको निशाना बनाया गया. इसके अलावा तलाश निहाल उर्फ दादा की है, जिसको आमोल काले के साथ एसआईटी इस हत्याकांड का मास्टरमाइंड मानती है. दादा महाराष्ट्र का रहने वाला है और फिलहाल फरार है. काले को दूसरे 3 आरोपियों के साथ एसईटी ने एक और तर्कवादी प्रोफेसर भगवान की हत्या की साजिश रचने की कोशिश में गिरफ्तार किया है.

एसआईटी की चार्जशीट 
- हथियार नवीन कुमार ने दिए
- लिखने की वजह से निशाना बनाया
- मास्टरमाइंड माने जाने वाले दादा की तलाश
- दादा फ़िलहाल फ़रार 
- काले को हत्या की साज़िश में पकड़ा

टिप्पणियां
राजीव गांधी हत्‍याकांड: 27 से जेल में बंद पेरारिवलन की सजा रद्द करने वाली याचिका SC ने की खारिज

हालांकि इस हत्याकांड में पहले गिरफ्तार हुए हैं. अवैध हथियारों के सौदागर केटी नवीन कुमार के इकबालिया बयान को चार्जशीट का फिलहाल हिस्सा नहीं बनाया गया है.
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement