BJP सांसद गौतम गंभीर ने दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल को खत लिखकर दी बधाई, की यह अपील...

पूर्वी दिल्ली से भारतीय जनता पार्टी के सांसद गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने बुधवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) से गाजीपुर लैंडफिल साइट का दौरा करने के लिए कहा.

BJP सांसद गौतम गंभीर ने दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल को खत लिखकर दी बधाई, की यह अपील...

पूर्वी दिल्ली से बीजेपी सांसद गौतम गंभीर. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

पूर्वी दिल्ली से भारतीय जनता पार्टी के सांसद गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने बुधवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) से गाजीपुर लैंडफिल साइट का दौरा करने के लिए कहा. गंभीर ने कचरे के ढेर के पास रहने वाले लोगों की दयनीय दशा का हवाला दिया. क्रिकेटर से राजनेता बने गंभीर ने केजरीवाल को पत्र लिखकर दिल्ली के मुख्यमंत्री के रूप में फिर से चुने जाने पर उन्हें बधाई दी. भाजपा सांसद ने कहा कि उनके निर्वाचन क्षेत्र की यह लैंडफिल साइट एशिया में सबसे बड़ी है और यहां कूड़े के पहाड़ का लगातार बढ़ना सभी लोक सेवकों के लिए चिंता का विषय है. गंभीर ने पत्र में लिखा है, 'लैंडफिल साइट के आसपास रहने वाले लोग बहुत ही दयनीय स्थिति में हैं. दिल्ली के मुख्यमंत्री के रूप में आपको उनकी खातिर साइट पर जाना चाहिए और उनकी स्थिति देखनी चाहिए.'
 


दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपने पास क्यों नहीं रखा कोई मंत्रालय? बताई वजह...

उन्होंने आगे लिखा, 'इसके अलावा, आपको पता चल जाएगा कि केंद्र सरकार और भाजपा के नेतृत्व वाली पूर्वी दिल्ली नगर निगम वहां क्या-क्या काम कर रही है.' गंभीर ने केजरीवाल के साथ दौरे पर जाने की पेशकश की. भाजपा सांसद ने मंगलवार को राष्ट्रीय राजधानी में तीन में से एक लैंडफिल साइट का निरीक्षण किया और विभिन्न एजेंसियों के अधिकारियों से भी मुलाकात की. उन्होंने कहा था कि वर्तमान में लगभग 45 मीटर ऊंचे कचरे के ढेर को कम करना उनकी सबसे बड़ी प्राथमिकता थी.

जेएनयू देशद्रोह मामला : केजरीवाल के बयान के तुरंत बाद दिल्ली पुलिस ने लिखी 'आप' सरकार को चिट्ठी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

गाजीपुर लैंडफिल साइट 1984 में शुरू हुई और 29 एकड़ में फैली हुई है. पूर्वी दिल्ली में यह कचरा स्थल सालों से कचरा जमा होने के कारण 2002 में भर गया था जिसके बाद नागरिक निकाय एक वैकल्पिक साइट की तलाश कर रहे हैं.

VIDEO: क्या है अरविंद केजरीवाल और अमित शाह के बीच की मुलाकात के मायने?