अलविदा जॉर्ज फर्नांडीज: बात करते हुए भावुक हुए नीतीश, यशवंत सिन्हा बोले- पहली मुलाकात में लगा कि मैं अपने हीरो से मिला

जॉर्ज फर्नांडीज का मंगलवार सुबह दिल्ली के एक अस्पताल में 88 साल की उम्र में निधन हो गया. वे काफी लंबे समय से अल्जाइमर से पीड़ित थे और उन्हें हालही स्वाइन फ्लू भी हुआ था.

अलविदा जॉर्ज फर्नांडीज: बात करते हुए भावुक हुए नीतीश, यशवंत सिन्हा बोले- पहली मुलाकात में लगा कि मैं अपने हीरो से मिला

पूर्व रक्षामंत्री जॉर्ज फर्नांडीज.

नई दिल्ली:

पूर्व रक्षामंत्री जॉर्ज फर्नांडीज (George Fernandes) का मंगलवार सुबह दिल्ली के एक अस्पताल में 88 साल की उम्र में निधन हो गया. वे काफी लंबे समय से अल्जाइमर से पीड़ित थे और उन्हें हालही स्वाइन फ्लू भी हुआ था. फर्नांडीज के निधन के बाद उन्हें याद करते हुए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar)कैमरे पर भावुक हो गए. वहीं पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा (Yashwant Sinha) ने उनके साथ के दिनों को याद करते हुए कहा कि जब मैं उनके पहली बार मिला तो मुझे लगा कि मैं अपने हीरो से मिल रहा हूं. 

फर्नांडीज को याद करते हुए नीतीश कुमार ने मीडिया से कहा, 'उनके नेतृत्व और मार्गदर्शन में जो कुछ भी सीखने का अवसर मिला, आज जो कुछ भी लोगों की सेवा के लिए करने की कोशिश करते हैं, वह उनका मार्गदर्शन ही है. हम सब लोगों के लिए वह बहूत ही महत्वपूर्ण थे. वैसे तो हर किसी का जाना तय है, लेकिन उनका स्वास्थ्य जिस ढंग से था वह तो उनके लिए मुक्ति ही है. हम सब लोगों के लिए यह बहुत दुखद स्थिति है. अब हम लोगों का यह संकल्प होगा कि जो उनका मार्गदर्शन था और उन्होंने लोगों के हक की लड़ाई लड़ी, उन्हें कभी नहीं भूलेंगे.'

अलविदा जॉर्ज फर्नांडीज: इमरजेंसी में रेल पटरी उड़ाने के लिए 'डायनामाइट साजिश' रचने के आरोप में हुई थी जेल

वहीं पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ने कहा, 'यह बहुत ही दुखद खबर है. वह मेरे लिए बड़े भाई जैसे थे. हमारा साथ तब का था जब मैंने जनता पार्टी ज्वाइन की थी. जब मैं उनसे  मिला तो लगा कि मैं मेरे हीरो से मिल रहा हूं. वह बहुत ही साधारण व्यक्ति थे. उन्होंने रक्षा मंत्रालय में बहुत काम किया था.'

प्रियदर्शन का ब्लॉग: जॉर्ज फर्नांडीज चले गए, सवाल बचे हुए हैं

इनके अलावा राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस प्रमुख राहुल गांधी सहित कई नेताओं ने पूर्व केंद्रीय मंत्री जॉर्ज फर्नांडीज के निधन पर दुख जताते हुए उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की. मोदी ने फर्नांडीज को एक तेजतर्रार श्रमिक नेता बताया, जिन्होंने आपातकाल का पुरजोर विरोध किया जबकि कोविंद ने उन्हें 'लोकतंत्र का चैंपियन' बताया. राष्ट्रपति ने कहा कि वह रेल और रक्षा मंत्री सहित विभिन्न पदों पर देश की सेवा करने वाले फर्नांडीज के निधन की खबर सुनकर दुखी हैं. उन्होंने कहा, 'उन्होंने सादा जीवन और उच्च विचार को महत्व दिया और आपातकाल और उसके बाद भी लोकतंत्र के चैंपियन के रूप में उभरे. हम सभी उन्हें याद करेंगे.'

पीएम मोदी ने कहा कि पूर्व मंत्री ने भारत के राजनीतिक नेतृत्व का सर्वश्रेष्ठ प्रतिनिधित्व किया. उन्होंने एक ट्वीट में कहा, 'स्पष्ट और निडर, बेबाक और दूरदर्शी. उन्होंने हमारे देश के लिए अपना बहुमूल्य योगदान दिया. वह गरीबों और हाशिए पर रह रहे लोगों के अधिकारों की सबसे प्रभावी आवाजों में से एक थे. उनके निधन से दुखी हूं.' वहीं, राहुल गांधी ने फेसबुक पर लिखा, 'पूर्व सांसद और केंद्रीय मंत्री जॉर्ज फर्नांडीज के निधन के बारे में सुनकर दुख हुआ. इस दुख की घड़ी में उनके परिवार और दोस्तों के प्रति मेरी संवेदनाएं.'

वाजपेयी सरकार में रक्षामंत्री रहे जॉर्ज फर्नांडीज का 88 साल की उम्र में निधन, लंबे समय से अल्जाइमर से थे पीड़ित

गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने ट्विटर पर लिखा, "उन्होंने कई श्रम आंदोलनों का नेतृत्व किया और श्रमिकों के साथ होने वाले अन्याय के खिलाफ लड़ाई लड़ी.. उनकी आत्मा को शांति मिले. पूर्व जनता दल यूनाइटेड (जदयू) प्रमुख शरद यादव ने फर्नांडीज को 'एक दुर्लभ नेता के रूप में याद किया' जिन्होंने वर्षों तक मेहनतकश लोगों की लड़ाई लड़ी. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी ट्वीट कर कहा कि वह फर्नाडिस के निधन से दुखी हैं. 

(इनपुट- एजेंसियां)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO- पूर्व रक्षामंत्री जॉर्ज फर्नांडीज का निधन