NDTV Khabar

देखें Video: ट्रेन के आगे कूदी, डिब्बे ऊपर से गुजरे, खरोंच भी न आई, उठकर चली गईं

मुंबई के घाटकोपर रेलवे स्टेशन का एक सीसीटीवी फुटेज मंगलवार को सामने आया था, जिसमें 23 जून को एक महिला ट्रेन के नीचे कूदती दिख रही है, उसके ऊपर से ट्रेन भी गुजर गई.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
देखें Video: ट्रेन के आगे कूदी, डिब्बे ऊपर से गुजरे, खरोंच भी न आई, उठकर चली गईं

ट्रेन के आगे कूदी महिला

खास बातें

  1. सीसीटीवी में महिला को स्टेशन से जाते देखा जा रहा है
  2. महिला के बारे में कुछ पता नहीं चल पाया
  3. महिला चुपचाप कहीं निकल गईं
मुंबई: मुंबई के घाटकोपर रेलवे स्टेशन का एक सीसीटीवी फुटेज मंगलवार को सामने आया था, जिसमें 23 जून को एक महिला ट्रेन के नीचे कूदती दिख रही है, उसके ऊपर से ट्रेन भी गुजर गई. बाद में जब उसे खोजना शुरू किया गया तो महिला का कोई पता नहीं चला. आज इस घटना का एक और फुटेज सामने आया है, जिसमें हादसे के 3 मिनट बाद वह प्लेटफ़ॉर्म पर से चलकर स्टेशन के बाहर जाते हुए दिख रही है, हालांकि अभी इस महिला की पहचान नहीं हो पाई है. माना जा रहा है कि बदनामी और पुलिस के पचड़े से बचने के लिए महिला चुपचाप अपने घर निकल गई.

टिप्पणियां
उल्लेखनीय है कि एक युवक घाटकोपर मेट्रो स्टेशन से नीचे कूद गया था. उसकी जान भी बच गई थी. दरअसल, स्वचालित किराया संग्रहण द्वार पर अनधिकृत रूप से निकलने का प्रयास करते हुए पकड़े जाने के बाद सुरक्षाकर्मियों द्वारा पूछताछ के लिए ले जाए जाने के दौरान 18 साल का एक किशोर रविवार को यहां घाटकोपर मेट्रो स्टेशन से नीचे कूद गया. व्यक्ति की पहचान ओडिशा निवासी राजकुमार के रूप में हुई है और नीचे कूदने पर वह जिंदा तो बच गया लेकिन उसके घुटने में फ्रैक्चर हो गया और उसका सरकारी राजावाडी अस्पताल में इलाज चल रहा है. मुंबई मेट्रो के एक अधिकारी ने कहा था कि जहां से किशोर कूद गया था, वहां से जमीन की दूरी करीब 30 फुट है.

घटना के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा कि टोकन डालने पर घाटकोपर मेट्रो स्टेशन के स्वचालित किराया संग्रहण :एएफसी: द्वार नहीं खुलने पर राजकुमार घबरा गया था, जिसके बाद ड्यूटी पर मौजूद सुरक्षाकर्मियों ने उसे पकड़ लिया और उसे पूछताछ के लिए ले जाया जा रहा था, तभी वह बचकर कानकोर्स से कूद गया. मुंबई मेट्रो ने कहा कि राजकुमार रात करीब साढे आठ बजे की घटना के समय शराब के नशे में था. इस मामले पर मेट्रो के अधिकारी ने कहा था कि एएफसी गेट इसलिए नहीं खुलते क्योंकि नियम के अनुसार, यात्री को टोकन जारी होने के एक घंटे के भीतर अपनी यात्रा पूरी करनी होती है और एक घंटे के बाद यह टोकन खुद ब खुद अवैध हो जाता है. इस मामले में भी यही होने की संभावना है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement