शाहीन बाग पर बोले केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह- यह आंदोलन नहीं, सुसाइड बॉम्बर का जत्था बन रहा है

गुरुवार को गिरिराज सिंह ने ट्वीट करते हुए कहा कि अब यह आंदोलन नहीं रहा, सुसाइड बॉम्बर का जत्था बनता जा रहा है.

शाहीन बाग पर बोले केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह- यह आंदोलन नहीं, सुसाइड बॉम्बर का जत्था बन रहा है

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह.

नई दिल्ली:

केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता गिरिराज सिंह ने शाहीन बाग में हो रहे नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शनों पर निशाना साधा है. गुरुवार को उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा कि अब यह आंदोलन नहीं रहा, सुसाइड बॉम्बर का जत्था बनता जा रहा है. उन्होंने ट्वीट किया, 'यह शाहीन बाग अब सिर्फ आंदोलन नहीं रह गया है. यहां सुसाइड बॉम्बर का जत्था बनाया जा रहा है. देश की राजधानी में देश के खिलाफ साजिश हो रही है.'

बता दें, भाजपा नेता व केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने हाल ही में एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी पर आरोप लगाया था कि वह जामिया मिल्लिया इस्लामिया और एएमयू जैसे शिक्षण संस्थानों में देश के खिलाफ ‘जहर घोल' रहे हैं. साथ ही कहा कि पाकिस्तान का गठन ऐसे ही लोगों के लिए किया गया है. सिंह ने ट्वीट किया था, ‘ओवैसी जैसे चरमपंथी जामिया और एएमयू जैसे संस्थानों में देश के खिलाफ जहर घोल कर देशद्राहियों की सेना तैयार कर रहे हैं. ओवैसी और उनके जैसे अन्य संविधान विरोधियों को रोकना होगा. भारतीय अब जाग उठे हैं. हम दबाएं और तोड़े नहीं. पाकिस्तान आपके लिए बनाया गया था. हमें शांति से जीने दें.'

शाहीन बाग में गोली चलाने वाले कपिल गुज्जर के पिता ने कहा, "मेरा बेटा PM मोदी-अमित शाह का सेवक है..."

केन्द्रीय मंत्री ने ओवैसी का एक वीडियो टैग किया था, जिसमें वह लोकसभा में बोल रहे हैं और प्रदर्शन कर रहे जामिया के छात्रों को अपना समर्थन दे रहे हैं. साथ ही, वह सरकार पर अत्याचार करने का आरोप लगा रहे हैं. सीएए विरोधी प्रदर्शनों और उत्तर प्रदेश पुलिस का संदर्भ देते हुए ओवैसी बोल रहे हैं, ‘एक बच्चे की आंख चली गई. बेटियों को पीटा जा रहा है. बच्चों पर गोलियां चल रही हैं.'

वहीं, संशोधित नागरिकता कानून (सीएए), राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) और राष्ट्रीय जनसंख्या पंजी (एनपीआर) के खिलाफ आजमगढ़ जिले के बिलरियागंज में प्रदर्शन और देश विरोधी नारेबाजी करने के आरोप में 35 नामजद तथा सैकड़ों अज्ञात लोगों के खिलाफ राजद्रोह का मामला दर्ज किया गया है और उनमें से 20 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलिस अधीक्षक त्रिवेणी सिंह ने गुरुवार को बताया कि मौलाना जौहर पार्क बिलरियागंज में मंगलवार को सीएए, एनआरसी और एनपीआर के खिलाफ प्रदर्शन के लिए पहुंचीं महिलाओं की आड़ में कुछ लोगों ने ‘हम लेकर रहेंगे आजादी' के कथित नारे लगाने के अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और एक विशेष समुदाय के खिलाफ कथित रूप से आपत्तिजनक भाषा का प्रयोग किया.

ओवैसी बोले- 8 फरवरी के बाद जलियांवाला बाग बन सकता है शाहीन बाग, प्रदर्शनकारियों को मारी जा सकती है गोली

वीडियो: बिरयानी और बेरोजगारी को लेकर क्या सोचता है युवा?

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com