NDTV Khabar

एक दिन के लिए ब्रिटिश उच्चायुक्त बनी गोरखपुर की युवती, जाने क्या है पूरा मामला

आयशा खान को राजनयिक की जिम्मेदारी संभालने का मौका तब मिला जब उसने ‘एक दिन का उच्चायुक्त’ प्रतियोगिता जीती.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
एक दिन के लिए ब्रिटिश उच्चायुक्त बनी गोरखपुर की युवती, जाने क्या है पूरा मामला

एक दिन के लिए ब्रिटिश उच्चायुक्त बनने वाली आयशा खान

खास बातें

  1. प्रतियोगिता का आयोजन 11 अक्टूबर को ‘अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस’ को किया
  2. इस प्रतियोगिता में 18-23 साल की भारतीय महिलाएं हिस्सा ले सकती थीं
  3. ‘एक दिन का उच्चायुक्त’ प्रतियोगिता का यह तीसरा साल था
नई दिल्ली:

भारत में ब्रिटेन के उच्चायुक्त की नौकरी कितनी व्यस्तता भरी है इस बात का अनुभव गोरखपुर की रहने वाली 22 साल की एक युवती ने तब किया जब उसने एक दिन के लिए इस पद की जिम्मेदारी संभाली. बता दें कि आयशा खान को राजनयिक की जिम्मेदारी संभालने का मौका तब मिला जब उसने ‘एक दिन का उच्चायुक्त' प्रतियोगिता जीती. इस प्रतियोगिता का आयोजन 11 अक्टूबर को ‘अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस' को किया गया था. इस प्रतियोगिता में 18-23 साल की भारतीय महिलाएं हिस्सा ले सकती थीं. 

ब्रिटिश High Commissioner ने पाकिस्तान में बनाया गाजर का हलवा, बोले- 'मेरा दूसरा पाठ...' देखें VIDEO

बता दें कि ब्रिटिश उच्चायोग के बयान में कहा गया कि दूत के रूप उन्होंने चार अक्टूबर को पूरा दिन ब्रिटेन के सबसे बड़े विदेशी नेटवर्क का कामकाज देखा, अलग-अलग सत्रों की अध्यक्षता की, गणमान्य लोगों के साथ बैठक की और परियोजनाओं के लाभार्थियों के साथ भी चर्चा की. वहीं ‘एक दिन का उच्चायुक्त' प्रतियोगिता का यह तीसरा साल था. इसमें भाग लेने वाले को एक मिनट का वीडियो रिकॉर्ड करना होता है कि लैंगिक समानता क्यों जरूरी है और लैंगिक समानता के लिए अपने सबसे बड़े प्रेरणास्रोत के तौर पर वे किसे देखती हैं? 


टिप्पणियां

जलियांवाला बाग की 100 वीं बरसी : भारत में ब्रिटिश उच्चायुक्त ने नरसंहार को बताया इतिहास की शर्मनाक घटना

बयान में खान के हवाले से कहा गया, 'मेरा दिन काफी व्यस्तता भरा था और मुझे काफी कुछ सीखने को मिला... मेरा मानना है कि शिक्षा एक शक्तिशाली माध्यम है जो लैंगिक समानता हासिल करने में मदद कर सकता है.' इस जिम्मेदारी को निभाने के दौरान आयशा ने पीतमपुरा स्थित एपीजे स्कूल का दौरा किया और इस दौरान वह दिल्ली में असंगठित क्षेत्र में काम करने वाली महिलाओं से मिली. 



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement