NDTV Khabar

भारत सरकार ने किया साफ, वायु सेना के लिए एफ-16 लड़ाकू विमान खरीदने का प्रस्ताव नहीं

टाटा समूह और अमेरिकी एयरोस्पेस दिग्गज लॉकहीड मार्टिन ने एफ-16 लड़ाकू विमान का संयुक्त रूप से भारत में उत्पादन करने के लिए इस साल पेरिस मोटर शो में जून में हस्ताक्षर किया था. इसके बीच यह बयान आया है.

1Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भारत सरकार ने किया साफ, वायु सेना के लिए एफ-16 लड़ाकू विमान खरीदने का प्रस्ताव नहीं

लड़ाकू विमान एफ 16.

खास बातें

  1. सरकार ने शुक्रवार को यह जानकारी दी
  2. टाटा समूह और लॉकहीड मार्टिन भारत में बनाएगी विमान
  3. इस साल पेरिस मोटर शो में जून में हस्ताक्षर किया था
नई दिल्ली: देश की वायुसेना को लड़ाकू विमानों की जरूरत है. लेकिन भारत सरकार ने संसद में साफ कर दिया है कि भारत सरकार एफ-16 विमान खरीदने नहीं जा रही है. सरकार ने कहा कि भारतीय वायु सेना के लिए फिलहाल एफ-16 लड़ाकू विमान खरीदने का कोई प्रस्ताव नहीं है. सरकार ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. टाटा समूह और अमेरिकी एयरोस्पेस दिग्गज लॉकहीड मार्टिन ने एफ-16 लड़ाकू विमान का संयुक्त रूप से भारत में उत्पादन करने के लिए इस साल पेरिस मोटर शो में जून में हस्ताक्षर किया था. इसके बीच यह बयान आया है.

इस सौदे के तहत लॉकहीड अपने टेक्सस के फोर्टवर्थ स्थित संयंत्र को भारत शिफ्ट करेगी.  रक्षा राज्यमंत्री सुभाष भामरे ने लोकसभा में एक लिखित जवाब में कहा, "फिलहाल भारतीय वायु सेना के लिए एफ-16 लड़ाकू विमान खरीदने का प्रस्ताव नहीं है. इस संबंध में भारतीय कंपनियों द्वारा किए गए समझौते का विवरण भारत सरकार के पास नहीं है."

यह भी पढ़ें : पाकिस्तान अब अमेरिका से नहीं, जॉर्डन से खरीदेगा एफ 16 लड़ाकू विमान

मंत्री ने कहा, "भारतीय वायु सेना के लिए अगर भविष्य में लड़ाकू विमानों की खरीद की जाती है तो मौजूदा खरीद प्रक्रियाओं के तहत की जाएगी."
VIDEO : डीओबी पर भारतीय वायु सेना का विमान

इस सप्ताह की शुरुआत में भामरे से राज्यसभा में पूछा गया था कि क्या भारत और अमेरिका उच्चस्तरीय प्रौद्योगिकी के हस्तांतरण और 'मेक इन इंडिया' कार्यक्रम के तहत एफ-16 लड़ाकू विमान के उत्पादन पर सहमत हुए हैं.  मंत्री ने इसका नकारात्मक जवाब दिया था.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement