NDTV Khabar

पश्चिम बंगाल में 800 टन प्याज का आयात करेगी ममता सरकार, कीमत पहुंची 150 रुपये किलो

पश्चिम बंगाल सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ''हमने कुल 800 टन प्याज के आयात का आर्डर दिया है जिसमें से 200 टन प्रति सप्ताह के हिसाब से खेप दिसंबर माह में ही आ जाएगी''.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पश्चिम बंगाल में 800 टन प्याज का आयात करेगी ममता सरकार, कीमत पहुंची 150 रुपये किलो

नासिक थोक बाजार में बढ़िया किस्म के प्याज का दाम 5,400 रुपये प्रति 40 किलो पहुंच गया है.

कोलकाता:

पश्चिम बंगाल सरकार (Government of West Bengal) ने मिस्र (Egypt) से 800 टन प्याज के आयात के लिए नेफेड को आदेश दिया है. राज्य सरकार ने कहा है कि उसे यह खेप दिसंबर अंत तक मिल जानी चाहिए ताकि राज्य में प्याज की उचित दाम पर आपूर्ति की जा सके. एक अधिकारी ने बुधवार को यह जानकारी दी.

यह भी पढ़ें: चोरों ने किसान के खेत से 30 हजार का प्याज चुराया, पुलिस जांच में जुटी

राज्य सरकार ने प्याज (Onion) आयात का यह ऑर्डर मुंबई बंदरगाह तक पहुंचाकर 55 रुपये किलो के भाव पर दिया है. यह ऑर्डर भारतीय राष्ट्रीय कृषि सहकारी विपणन महासंघ (नेफेड) के जरिये मंगाया जा रहा है और उसी को इसका वितरण करने को कहा गया है.

पश्चिम बंगाल सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ''हमने कुल 800 टन प्याज के आयात का ऑर्डर दिया है जिसमें से 200 टन प्रति सप्ताह के हिसाब से खेप दिसंबर माह में ही आ जाएगी. मुंबई बंदरगाह पर आ कर इसकी लागत 55 रुपये किलो पड़ेगी और वहां से कोलकाता पहुंचते पहुंचते यह प्याज 65 रुपये किलो तक पड़ जाएगा.'' प्याज का आयात मिस्र से किया जा रहा है.


टिप्पणियां

सूत्रों ने मुताबिक नासिक थोक बाजार में बढ़िया किस्म के प्याज का दाम 5,400 रुपये प्रति 40 किलो तक पहुंच जाने की रिपोर्ट मिलने पर यहां शहर की पोस्ता थोक मंडी में बुधवार को दाम 125 रुपये प्रति किलो तक पहुंच गया.

इससे यह संकेत मिलता है कि सबसे अच्छे किस्म का प्याज खुदरा बाजार में धीरे धीरे 150 रुपये किलो के भाव की ओर बढ़ रहा है. राज्य सरकार की एजेंसियां हालांकि स्थिति पर नजर रखे हुए हैं. राज्य सरकार ने प्याज की तंगी की स्थिति के लिये केन्द्र पर दोष मढ़ा है.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें. India News की ज्यादा जानकारी के लिए Hindi News App डाउनलोड करें और हमें Google समाचार पर फॉलो करें


Advertisement