NDTV Khabar

अर्थव्यवस्था को लेकर सरकार पर निशाना साधे विपक्ष को आज जवाब दे सकते हैं पीएम मोदी

बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारणी की बैठक में पहले दिन अमित शाह ने पार्टी प्रदर्शन की समीक्षा की

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अर्थव्यवस्था को लेकर सरकार पर निशाना साधे विपक्ष को आज जवाब दे सकते हैं पीएम मोदी

दिल्ली में बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक सोमवार को पीएम नरेंद्र मोदी के संबोधन के साथ समाप्त होगी.

खास बातें

  1. बैठक में करीब 1400 विधायक, 337 सांसदो और सभी विधान पार्षद उपस्थित
  2. मोदी के स्वच्छ भारत मिशन को आगे बढ़ाने का फैसला लिया गया
  3. 25 सितंबर को पीएम नरेंद्र मोदी के संबोधन से होगा बैठक का समापन
नई दिल्ली: बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारणी की दो दिवसीय बैठक में पहले दिन रविवार को अध्यक्ष अमित शाह ने पार्टी के प्रदर्शन की समीक्षा की. इस कार्यक्रम का समापन आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संबोधन से होगा जिसमें वह अर्थव्यवस्था की स्थिति पर विपक्ष की आलोचना का जवाब दे सकते हैं.

दो दिवसीय कार्यक्रम का उद्घाटन करने के बाद, शाह ने एजेंडा तथा प्रस्तावों पर विचार के लिए पार्टी पदाधिकारियों, राज्य प्रमुखों और प्रमुख संगठन नेताओं के साथ बैठक की. उम्मीद है कि राष्ट्रीय कार्यकारिणी में हिन्दुत्व विचारक दीन दयाल उपाध्याय की जयंती 25 सितंबर के अवसर पर उन प्रस्तावों पर चर्चा की जाएगी. बैठक में, अमित शाह ने पिछले एक साल में पार्टी के विस्तार अभियान की समीक्षा की.

यह भी पढ़ें : गुड़गांव नगर निगम चुनाव में निर्दलियों ने बीजेपी को दी पटखनी, 35 में से 21 सीटों पर विजयी

बीजेपी महासचिव भूपेंद्र यादव ने कहा कि पार्टी को मजबूत बनाने के लिए 4100 राज्य विधानसभा सीटों पर पार्टी के चार लाख से ज्यादा कार्यकर्ताओं ने सरकार की विभिन्न विकास पहलों को लोगों के साथ साझा किया. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के स्वच्छ भारत मिशन को भी आगे बढ़ाने का फैसला किया गया.

महासचिव विनय सहस्रबुद्धे ने शाह के देशव्यापी दौरे का ब्यौरा भी बैठक में साझा किया और कहा कि पार्टी अध्यक्ष ने 50 हजार किलोमीटर की यात्रा की तथा बीजेपी को मजबूत बनाने के लिए 18 हजार कार्यकर्ताओं से संवाद किया. यादव ने कहा कि पार्टी ने उपाध्याय की जन्मशती के वर्ष को गरीबों के कल्याण को समर्पित किया है और सरकार ने इस मोर्चे पर कई कदम उठाते हुए भ्रष्टाचार पर काबू पाने का प्रयास किया है.

बैठक की एक खास बात पार्टी के करीब 1400 विधायकों, 337 सांसदों और सभी विधान पार्षदों की उपस्थिति भी है. इसके अलावा उसके कोर समूह के नेता भी शामिल होंगे. सोमवार 25 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का समापन संबोधन खास होगा. वह अपने संबोधन के दौरान सरकार की गरीब कल्याण योजनाओं एवं अन्य नीतिगत निर्णयों को रेखांकित कर सकते हैं.

यह भी पढ़ें : दक्षिणपंथी नहीं मध्‍यमार्गी पार्टी है बीजेपी: अरुण जेटली

पार्टी सूत्रों ने कहा कि अर्थव्यवस्था, नोटबंदी के आंकड़ों आदि को लेकर विपक्षी दलों द्वारा सरकार की आलोचनाओं के बीच प्रधानमंत्री उसका जवाब दे सकते हैं और पारदर्शिता को बढ़ावा देने तथा काले धन पर काबू की दिशा में अपनी सरकार की सफलताओं को रेखांकित कर सकते हैं. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने अपनी अमेरिका यात्रा के दौरान बार बार अर्थव्यवस्था को लेकर सरकार पर हमला बोला है.

बीजेपी सूत्रों ने कहा कि पार्टी के प्रस्ताव में इस बात पर जोर दिए जाने की संभावना है कि पूर्ववर्ती संप्रग सरकार की तुलना में राजग सरकार में अर्थव्यवस्था अच्छा प्रदर्शन कर रही है. वस्तु एवं सेवा कर :जीएसटी: से आए आर्थिक बदलाव, नोटबंदी के कारण बदली परिस्थितियों का जिक्र भी हो सकता है. विकास के प्रधानमंत्री के एजेंडा को भी प्रमुखता से शामिल किए जाने की संभावना है.

टिप्पणियां
VIDEO : बीजेपी मध्यमार्गीय पार्टी

पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि राजनीतिक प्रस्ताव में रोहिंग्या मुसलमानों के मुद्दे को शामिल किये जाने की संभावना है. सरकार ने उन्हें देश की सुरक्षा के लिए खतरा करार दिया है. सरकार और पार्टी द्वारा दीन दयाल उपाध्याय के दर्शन ‘‘अंत्योदय’’ पर जोर दिए जाने के बीच गरीबों के कल्याण के लिए केंद्र तथा भाजपा शासित राज्य सरकारों द्वारा उठाए गए विभिन्न कदमों को भी रेखांकित किया जा सकता है.
(इनपुट भाषा)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement