NDTV Khabar

तीन तलाक पर सरकार के अध्यादेश को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती

समस्त केरल जमियत उलेमा ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल करके तीन तलाक अध्यादेश को अंसवैधानिक करार देने की मांग की गई

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
तीन तलाक पर सरकार के अध्यादेश को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती

प्रतीकात्मक फोटो.

खास बातें

  1. याचिका में कहा गया है कि अध्यादेश मनमाना और भेदभावपूर्ण
  2. समानता के अधिकार और जीने के अधिकार का हनन करता है
  3. गत 19 सितंबर को कैबिनेट में तीन तलाक अध्यादेश को नोटिफाई किया गया
नई दिल्ली:
टिप्पणियां

तीन तलाक को लेकर सरकार के अध्यादेश का मामला भी सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है. इस अध्यादेश को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी गई है. समस्त केरल जमियत उलेमा ने यह याचिका दाखिल की है.
 
याचिका में तीन तलाक अध्यादेश को अंसवैधानिक करार देने की मांग की गई है. याचिका में कहा गया है कि यह अध्यादेश मनमाना और भेदभावपूर्ण है. याचिका में कहा गया है कि यह अध्यादेश समानता के अधिकार और जीने के अधिकार का हनन करता है. इसे सुप्रीम कोर्ट द्वारा रद्द किया जाना चाहिए.

VIDEO : कांग्रेस ने कहा- महिला के भरण-पोषण की जिम्मेदारी किसकी 

गौरतलब है कि गत 19 सितंबर को ही कैबिनेट में तीन तलाक अध्यादेश को नोटिफाई किया गया था. राष्ट्रपति ने भी इस पर हस्ताक्षर कर दिए हैं.




NDTV.in पर हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) विधानसभा के चुनाव परिणाम (Assembly Elections Results). इलेक्‍शन रिजल्‍ट्स (Elections Results) से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरेंं (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement