NDTV Khabar

डोकलाम को लेकर सरकार ने दिया बयान, कहा- हाल-फिलहाल कोई नई घटना नहीं हुई

विदेश राज्य मंत्री वी के सिंह ने राज्यसभा में यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि चीन, भारत और चीन के बीच अंतरराष्ट्रीय सीमा को विवादित मानता है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
डोकलाम को लेकर सरकार ने दिया बयान, कहा- हाल-फिलहाल कोई नई घटना नहीं हुई

वीके सिंह की फाइल फोटो

नई दिल्ली: डोकलाम में बीते कुछ समय से चल रहे सीमा विवाद को लेकर भारत सरकार ने जानकारी साझा की है. सरकार ने कहा है कि 28 अगस्त 2017 को भारतीय और चीनी सैनिकों को हटाए जाने के बाद से शुरू हुई तनातनी वाली जगह और इसके आसपास कोई नई घटनानहीं हुई है. विदेश राज्य मंत्री वी के सिंह ने राज्यसभा में यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि चीन, भारत और चीन के बीच अंतरराष्ट्रीय सीमा को विवादित मानता है. पूर्वी क्षेत्र में चीन, अरुणाचल प्रदेश राज्य में करीब 90,999 वर्ग किमी के भारतीय भू-भाग पर अपना दावा करता है.

यह भी पढ़ें: भारत और चीन की सेनाएं वार्षिक अभ्यास बहाल करेंगी : सेना प्रमुख

वी के सिंह ने बताया कि चीनी पक्ष को उच्चतम स्तर और विभिन्न अवसरों पर स्पष्ट रूप से इस बात से अवगत करा दिया है कि अरुणाचल प्रदेश भारत का एक अभिन्न अंग है. सिंह ने कहा कि सरकार देश की सुरक्षा जरूरतों के प्रति पूरी तरह सजग है और अपनी सीमा पर किसी भी प्रकार की सुरक्षा चुनौतियों से निपटने और उसका जवाब देने के लिए  तैयार है. उन्होंने सांसद संजय राउत के प्रश्न के लिखित उत्तर में बताया कि भूटान के डोकलाम क्षेत्र में भारत और चीन सीमा सैनिकों के बीच तलातनी तब शुरू हुई जब चीनी पक्ष ने भूटान और भारत दोनों के साथ अपनी वर्तमान समझ का उल्लंघन करते हुए क्षेत्र में एक सड़क निर्माण कर यथास्थिति को बदलने का प्रयास किया.  

टिप्पणियां
VIDEO: डोकलाम में बढ़ा विवाद.


सिंह ने बताया कि सतत राजनयिक संपर्कों के आधार पर 28 अगस्त 2017 को डोकलाम क्षेत्र में भारत और चीन के सैनिकों को हटा लिया गया. इससे क्षेत्र में चीन के सड़क निर्माण के संबंध में भारत की चिंताओं का समाधान हो गया है. (इनपुट भाषा से) 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement