सरकार अर्थव्यवस्था में तेजी लाने पर कर रही काम, 5 करोड़ रोजगार सृजित करने का लक्ष्य: गडकरी

गडकरी ने कहा, ‘‘हमारा मिशन 5 करोड़ रोजगार सृजित करना है...हम अर्थव्यवस्था पर ध्यान दे रहे हैं. बुनियादी ढांचा, खेती और जनजातीय विकास हमारी प्राथमिकता में हैं.’’ 

सरकार अर्थव्यवस्था में तेजी लाने पर कर रही काम, 5 करोड़ रोजगार सृजित करने का लक्ष्य: गडकरी

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी.

खास बातें

  • रोजगार सृजित करने को लेकर प्रयास जारी हैं-गडकरी
  • भारत की अर्थव्यवस्था महत्वपूर्ण है लेकिन सुरक्षा भी अहम है- मंत्री
  • गडकरी ने महाराष्ट्र की सरकार को अस्वाभाविक तालमेल बताया
नई दिल्ली:

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने मंगलवार को कहा कि अर्थव्यवस्था को मजबूत करने तथा पांच करोड़ रोजगार सृजित करने को लेकर प्रयास जारी हैं. मंत्री ने  कहा कि सरकार अर्थव्यवस्था को उच्च प्राथमिकाता दे रही है लेकिन सुरक्षा मसले भी अहम हैं.  सरकार के विभाग तालमेल से न कि अलग-अलग कोठरी में बैठकर करते हैं. सड़क परिवहन, राजमार्ग और एमएसएमई (सूक्ष्म, लघु एवं मझोले उद्यम) मंत्री ने कहा कि स्थिति चुनौतीपूर्ण है लेकिन तीव्र आर्थिक वृद्धि वाली अर्थव्यवसथा तेजी से आगे बढ़ेगी.

.यह भी पढ़ें- भारतीय अर्थव्यवस्था की रफ्तार और हो सकती है मंद, मूडीज ने विकास दर का अनुमान घटाया

 गडकरी ने कहा, ‘‘हमारा मिशन 5 करोड़ रोजगार सृजित करना है...हम अर्थव्यवस्था पर ध्यान दे रहे हैं. बुनियादी ढांचा, खेती और जनजातीय विकास हमारी प्राथमिकता में हैं.''  एक सवाल के जवाब में मंत्री ने कहा, ‘‘एक समन्वित रुख है. भारत की अर्थव्यवस्था महत्वपूर्ण है लेकिन सुरक्षा भी अहम है...सरकार को एक समय में विभिन्न विषयों पर काम करना होता है. हम अर्थव्यवस्था पर ध्यान दे रहे हैं. बुनियादी ढांचा विकास, खेती-बाड़ी और जनजातीय विकास भी समान रूप से महत्वपूर्ण है.''

उन्होंने कहा कि सरकार अलग-अलग कोठरी में बैठकर काम नहीं करती. उसे सभी पहलुओं को देखना होता है. राजमार्ग के बारे में गडकरी ने कहा कि अगले पांच साल में 17 लाख करोड़ रुपये मूल्य की परियोजनाओं पर काम किया जाएगा.  इसमें से 2 लाख करेाड़ रुपये की परियोजनाओं पर मार्च तथा 3 लाख करोड़ रुपये की परियोजनाओं पर अगले साल काम होगा. 

यह भी पढ़ें- आर्थिक नरमी के लिए सिर्फ वैश्विक कारक पूरी तरह से जिम्मेदार नहीं : शक्तिकांत दास

उन्होंने कहा, ‘‘राजमार्ग और पोत परिवहन क्षेत्र में पिछले पांच साल में संयुक्त रूप से 17 लाख करोड़ रुपये मूल्य के काम हुए. गडकरी ने यह भी कहा कि देश में 22 लाख और चालकों की जरूरत है और चालक प्रशिक्षण संस्थान स्थापित के लिये प्रयास जारी हैं. 

महाराष्ट्र की सरकार के बारे में पूछे गये एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि वहां बनी गठबंधन की सरकार एक अस्वाभाविक तालमेल है जो ज्यादा दिन नहीं चलेगा.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com