सरकार को दही हांडी उत्सव पर सुप्रीम कोर्ट के आदेश को पलट देना चाहिए : शिवसेना

सरकार को दही हांडी उत्सव पर सुप्रीम कोर्ट के आदेश को पलट देना चाहिए : शिवसेना

प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर...

खास बातें

  • सरकार को शीर्ष अदालत के आदेश को पलटने के लिए अध्यादेश लाना चाहिए- शिवसेना
  • मुखपत्र 'सामना' के एक संपादकीय में यह बात कही.
  • राजनेता अब शीर्ष अदालत के आदेश का पालन करने में जुट गए हैं- शिवसेना
मुंबई:

महाराष्ट्र में दही हांडी उत्सवों को लेकर उच्चतम न्यायालय के निर्देशों की पृष्ठभूमि में शिवसेना ने गुरुवार को कहा है कि सरकार को शीर्ष अदालत के आदेश को पलटने के लिए एक अध्यादेश लाना चाहिए.

शिवसेना ने कहा कि पुलिस अब अपराधियों को पकड़ने के अपने तय काम को करने के बजाय उच्चतम न्यायालय के दिशा-निर्देशों का पालन कराने के लिए एक जगह से दूसरी जगह तक घूमती रहेगी और मानव पिरामिड की ऊंचाई और 'गोविंदाओं' (ऐसे युवक जो दही से भरे मटके को फोड़ने के लिए मानवीय पिरामिड बनाते हैं) की उम्र पर नजर रखेगी.

भाजपा की सहयोगी ने अपने मुखपत्र 'सामना' के एक संपादकीय में कहा है, 'परंपरागत तरीके से उत्सव मनाने का समर्थन करने वाले राजनेता अब शीर्ष अदालत के आदेश का पालन करने में जुट गए हैं और लोगों से अनुशासन बनाए रखने और बनाए गए  दिशा-निर्देशों का पालन करने को कह रहे हैं. यह संभव नहीं है कि सरकार अदालत के आदेश को लेकर मन में गुस्सा उमड़ने के बावजूद उसे पलटने के लिए एक अध्यादेश ला सके'. इसमें कहा गया है कि 'हालांकि, सरकार ने आज अवकाश की घोषणा की है, लेकिन यदि सरकार ने उच्चतम न्यायालय के आदेश को पलटने के लिए कुछ किया होता तो लोगों को ज्यादा खुशी होती'.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com