NDTV Khabar

गुजरात सरकार ने कमजोर मानसून से निपटने के लिए तैयारी शुरू की

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने बताया कि अब तक राज्य में 59 फीसदी बुआई हो चुकी है

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
गुजरात सरकार ने कमजोर मानसून से निपटने के लिए तैयारी शुरू की

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी (फाइल फोटो).

नई दिल्ली:

गुजरात सरकार ने कमजोर मानसून से निपटने की तैयारी शुरू कर दी है. एनडीटीवी से खास बातचीत में गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने कहा कि मानसून अब तक गुजरात के एक बड़े हिस्से तक नहीं पहुंचा है. रुपाणी ने कहा, "मानसून अभी तक अपसेट है. आधे गुजरात में पानी गिरा है, आधे गुजरात में अभी तक मानसून का पानी नहीं आया है. कच्छ से सौराष्ट्र और उत्तरी गुजरात में अभी तक कम बारिश हुई है."

गुजरात के मुख्यमंत्री ने उम्मीद जताई कि मानसून की स्थिति में सुधर होगा लेकिन साथ ही कहा कि राज्य सरकार ने किसी भी स्थिति से निपटने की तैयारी शुरू कर दी है.

रुपाणी ने एनडीटीवी से कहा, "हमारी पहली प्राथमिकता होगी कि हम लोगों को पीने का पानी उपलब्ध कराएं. दूसरी प्राथमिकता होगी किसानों को खेती के लिए पानी उपलब्ध कराने की और तीसरी प्राथमिकता उद्योग जगत को पानी सप्लाई करने की."  

देश के 12 राज्यों में पानी का संकट, खरीफ फसल का रकबा घटा


नीति आयोग में कृषि संकट से निपटने की रणनीति बनाने के लिए गठित मुख्यमंत्रियों की समिति की एक अहम बैठक के बाद गुजरात के मुख्यमंत्री ने यह बात कही.

बैठक के बाद मुख्यमंत्रियों की समिति के चेयरमैन और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने मीडिया ब्रीफिंग में कहा, "महाराष्ट्र में मानसून का डिपार्चर नार्मल से काफी है. मौसम विभाग ने कहा है कि 18 जुलाई और 25 जुलाई के आसपास मानसून की स्थिति बदलेगी. मुझे लगता है कि सिचुएशन इज़ होगा." महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ने बताया कि अब तक राज्य में 59 फीसदी बुआई हो चुकी है. हालांकि उन्होंने माना कि मानसून के हालात को लेकर चिंता ज़रूर है.

बजट से ठीक पहले खरीफ सीजन की सभी प्रमुख फसलों की MSP बढ़ी

प्रधानमंत्री द्वारा गठित मुख्यमंत्रियों की समिति की बैठक में कृषि क्षेत्र में जारी संकट के कई पहलुओं पर चर्चा हुई, जैसे कि किस तरह किसानों को बेहतर मार्केट एक्सेस मिल सके, वे  बैंकों से ज्यादा से ज्यादा क़र्ज़ ले सकें और कृषि क्षेत्र में किस तरह दर बढ़ाई जा सके.

VIDEO : मानसून में देरी से फसलों की बुआई प्रभावित

टिप्पणियां



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement