गुजरात में राज्यसभा की दो सीटों पर उपचुनाव के लिए मतदान शुरू, जानें क्या कहते हैं आंकड़ें

लोकसभा चुनाव जीतने के बाद केंद्रीय मंत्रियों अमित शाह और स्मृति ईरानी के इस्तीफा देने के कारण गुजरात से राज्यसभा की दो सीटों के लिए उपचुनाव कराए जाने की जरूरत पड़ी है.

गुजरात में राज्यसभा की दो सीटों पर उपचुनाव के लिए मतदान शुरू, जानें क्या कहते हैं आंकड़ें

प्रतीकात्मक तस्वीर.

नई दिल्ली:

गुजरात में राज्यसभा की दो सीटों पर उपचुनाव के लिए मतदान शुक्रवार को गांधीनगर स्थित विधानसभा भवन में शुरू हो गया. सबसे पहले मतदान करने वालों में राज्य के मंत्री सौरभ पटेल, प्रदीपसिंह जडेजा और भाजपा विधायक अरुणसिंह राणा शामिल रहे. भाजपा ने जहां विदेश मंत्री एस. जयशंकर और ओबीसी नेता जुगलजी ठाकोर को मैदान में उतारा है वहीं कांग्रेस ने चंद्रिका चूड़ासमा और गौरव पांडा को उम्मीदवार बनाया है. दो सीटों पर सुबह नौ बजे मतदान शुरू हुआ और यह शाम चार बजे तक चलेगा. मतों की गिनती शाम पांच बजे की जाएगी.

दोनों सीटों के लिए अलग-अलग मतदान होने के कारण एक प्रत्याशी को जीतने के लिए सामान्य तौर पर 50 प्रतिशत मतों की जरूरत होगी. वर्तमान स्थिति में प्रत्येक प्रत्याशी को जीतने के लिए 88 मतों की जरूरत होगी. कांग्रेस अपने 71 विधायकों में से 65 को दो दिन पहले बनासकांठा स्थित रिसॉर्ट में ले गयी थी. पार्टी के एक नेता ने कहा कि ये विधायक सुबह 10.30 बजे मतदान के लिए यहां पहुंचेंगे. 

गुजरात कांग्रेस विधायकों को राज्यसभा चुनाव से पहले रिजॉर्ट ले जाया गया

इस साल मई में गांधीनगर और अमेठी निर्वाचन क्षेत्रों से लोकसभा चुनाव जीतने के बाद केंद्रीय मंत्रियों अमित शाह और स्मृति ईरानी के इस्तीफा देने के कारण गुजरात से राज्यसभा की दो सीटों के लिए उपचुनाव कराए जाने की जरूरत पड़ी है. 182 सदस्यीय विधानसभा में अपनी संख्या बल के कारण भाजपा दोनों सीटों पर जीतने में सक्षम है. चुनाव आयोग (ईसी) की अधिसूचना के अनुसार यहां अलग-अलग मतदान हो रहा है. कुल 182 विधायकों में से इस बार 175 अपने मताधिकार का इस्तेमाल करने के लिए योग्य हैं. भाजपा के पास 100 विधायक हैं जबकि कांग्रेस के पास 71 विधायक हैं.

मनमोहन सिंह को राज्यसभा भेजने के लिए कांग्रेस के पास बचा है अब सिर्फ इस राज्य का सहारा...

गुजरात राज्यसभा चुनाव पर इतनी रस्साकशी क्यों?

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com