NDTV Khabar

गुजरात में उत्तर भारतीयों पर हमले, हार्दिक पटेल ने कहा- बिहारियों पर अत्याचार बर्दाश्त नहीं, जारी किया पोस्टर

गुजरात में उत्तर भारतीयों पर हो रहे हमले के बीच पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने अब एक पोस्टर जारी किया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
गुजरात में उत्तर भारतीयों पर हमले, हार्दिक पटेल ने कहा- बिहारियों पर अत्याचार बर्दाश्त नहीं, जारी किया पोस्टर

पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने एक पोस्टर जारी किया है.

नई दिल्ली : गुजरात में उत्तर भारतीयों पर हो रहे हमले के बीच पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने अब एक पोस्टर जारी किया है. इस पोस्टर में उन्होंने लिखा है कि बिहारियों पर अत्याचार बर्दास्त नहीं किया जाएगा. पोस्टर में आगे लिखा है कि बिहार, उत्तर प्रदेश, झारखंड और गुजरात समेत बाहर से रोजी-रोटी के लिए गुजरात आये लोगों के साथ अगर कोई मारपीट करता है या गुजरात छोड़ने की धमकी देता है तो इसकी सूचना उन्हें दें. इसके लिए बाकायदा एक हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया है. हार्दिक पटेल का यह पोस्टर गुजरात के तमाम शहरों में तो लगा ही है. साथ ही बिहार की राजधानी पटना में ये पोस्टर लगाए गए हैं. आपको बता दें कि गुजरात में चौदह महीने की बच्ची के साथ कथित रूप से रेप की घटना में 28 सितंबर को बिहार के एक मजदूर की गिरफ्तारी के बाद हिंसा भड़क गई. 
 
राज्य में जगह-जगह उत्तर भारतीयों पर हमले के बाद लोग पलायन कर रहे हैं. उत्तर भारतीयों पर हमले के पीछे कांग्रेस नेता अल्पेश ठाकोर का भी नाम सामने आया. इसके बाद आलोचनाओं से घिरे कांग्रेस विधायक अल्पेश ठाकोर ने बिहार और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्रियों को पत्र लिखा है और दावा किया कि वह या उनका संगठन हिंसा में शामिल नहीं है, जिसकी वजह से लोग राज्य छोड़कर जा रहे हैं. अल्पेश ठाकोर ने योगी आदित्यनाथ और नीतीश कुमार को चिट्ठी लिखी है और दोनों ही चिट्ठियों का मजमून एक है. गुजरात से जाने वाले ज्यादातर प्रवासी इन्हीं दोनों राज्यों से हैं. कांग्रेस विधायक ने कहा कि वह केवल बलात्कार पीड़िता के लिए इंसाफ मांग रहे थे लेकिन कुछ लोगों ने इसे राजनीतिक रंग दे दिया. उन्होंने दावा किया कि उत्तर प्रदेश और बिहार के लोग अफवाहों पर आंख बंद कर विश्वास कर रहे हैं और गुजरात से जा रहे हैं. 

टिप्पणियां
यह भी पढ़ें : गुजरात में उत्तर भारतीयों पर हमला, कांग्रेस ने भाजपा को याद दिलाया 'राजधर्म', कहा- हिंसा रोकना ही नहीं चाहते

VIDEO: रणनीति इंट्रो: बलात्कार पर ध्रुवीकरण क्यों?


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement