NDTV Khabar

गुजरात राज्यसभा चुनाव की लड़ाई अब चुनाव आयोग में, दो वोटों को लेकर ठनी

बीजेपी और कांग्रेस के बीच इसी मुद्दे पर काफी बहस हुई. दो वोट को लेकर बीजेपी कोंग्रेस में ठनी है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
गुजरात राज्यसभा चुनाव की लड़ाई अब चुनाव आयोग में, दो वोटों को लेकर ठनी

अहमद पटेल कड़े मुकाबले का सामना कर रहे हैं..

खास बातें

  1. गुजरात राज्यसभा चुनाव की वोटों की गिनती अटकी
  2. कांग्रेस ने दो विधायकों के वोट रद्द करने की मांग की है
  3. अब वोटों की गिनती को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं है
अहमदाबाद: गुजरात राज्यसभा चुनाव में वोटिंग के बाद भी दोनों पार्टियों में जंग जारी है. कांग्रेस ने दो वोट निरस्त किए जाने की मांग की है. उधर, बीजेपी के प्रतिनिधिमंडल ने वित्त मंत्री अरुण जेटली, रविशंकर प्रसाद और पीयूष गोयल के नेतृत्व में चुनाव आयोग से मुलाकात करके जल्द मतगणना की मांग की है. कांग्रेस के आरोपों को बीजेपी निराधार बता रही है.

उधर, कांग्रेस की ओर वरिष्ठ कांग्रेसी नेता पी चिदंबरम के नेतृत्व में चुनाव आयोग से मिला. बाद में मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा, "हमने चुनाव आयोग से पुराने संदर्भ देते हुए कहा है कि इसी तरह का मामला पहले ही हो चुका है. बैलेट पेपर अधिकृत व्यक्ति के अलावा किसी और व्यक्ति द्वारा देखे जाने पर उन्हें रद्द कर दिया गया था. हमने आयोग से इसी आधार पर कहा है कि गुजरात में यही नियम लागू होना चाहिए. हमने यह भी कहा है कि पीठासीन अधिकारी ने नियमों का उल्लंघन किया है. हमने तत्काल आपत्ति जताई थी लेकिन पीठासीन अधिकारी ने हमारी खारिज कर दी. हमने इन दो वोटों को रिजेक्ट करने की मांग की है."

उधर, कांग्रेस का कहना है कि व्हिप जारी होने के बाद वोट दिखाया नहीं जा सकता. कांग्रेस का यह भी आरोप है कि उसके दो बागी विधायक राघवजी पटेल और कांग्रेस विधायक भोला पटेल ने वोट डालते समय बीजेपी नेताओं को अपनी पर्ची दिखाई थी. कांग्रेस चुनाव अधिकारियों से पुराना वीडियो फुटेज दिखाए जाने और इन दोनों विधायकों के वोट निरस्त करने की मांग कर रही है. कांग्रेस का कहना है कि हाल ही में हरियाणा में हुए चुनाव में हमारे एक विधायक ने गलती से अपना वोट किसी और को दिखा दिया जिसे अमान्य माना गया था. कांग्रेस इसी आधार पर दो विधायकों के वोट रद्द करने की मांग कर रहे हैं.

पढ़ें: राज्‍यसभा चुनाव: सोनिया गांधी के सलाहकार अहमद पटेल की साख का सवाल, जानें 5 बातें

उधर, गुजरात में मंगलवार को हो रहे राज्‍यसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस नेता अहमद पटेल ने NDTV से बातचीत करते हुए कहा कि अपने राजनीतिक करियर में इस तरह का तनावपूर्ण और कड़ा मुकाबला नहीं देखा. हालांकि इसके साथ ही कहा कि हमारे पास पर्याप्‍त संख्‍याबल है. उल्‍लेखनीय है कि गुजरात की तीन राज्‍यसभा सीटों के लिए चुनाव हो रहा है. उनमें से दो सीटें बीजेपी के खाते में जानी तय है. बीजेपी की तरफ से अमित शाह और स्‍मृति ईरानी मैदान में हैं.

पढ़ें: मैंने अहमद पटेल को नहीं दिया वोट, कांग्रेस को वोट देने का मतलब नहीं : शंकर सिंह वाघेला

टिप्पणियां
VIDEO : गुजरात में अहमद पटेल की राह कठिन


तीसरी सीट के लिए कांग्रेस के अहमद पटेल का जीतना मुश्किल लग रहा है. इस सीट को लेकर बीजेपी की घेरेबंदी के चलते कांग्रेस को अपने 44 विधायकों को गुजरात से बाहर कर्नाटक भेजना पड़ा. चुनाव से पहले कद्दावर नेता शंकर सिंह वाघेला ने कांग्रेस छोड़ दी. उनके समधी बलवंत सिंह राजपूत को बीजेपी की शह पर मैदान में उतारा गया. माना जा रहा है कि यदि कांग्रेस की तरफ से क्रॉस वोटिंग हुई तो अहमद पटेल की पांचवीं बार राज्‍यसभा चुनाव पहुंचने की राह मुश्किल हो सकती है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement