Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

200 करोड़ की शादी के बाद छोड़ गए थे 4 टन कचरा, अब सफाई के लिए नगर निकाय को दिए 54,000

उच्च न्यायालय ने जिला प्रशासन और प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को कचरे के कारण पर्यावरण को होने वाले नुकसान पर 7 जुलाई तक एक रिपोर्ट प्रस्तुत करने का निर्देश दिया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
200 करोड़ की शादी के बाद छोड़ गए थे 4 टन कचरा, अब सफाई के लिए नगर निकाय को दिए 54,000

नगर निगम ने कचरे को साफ करने के लिए 20 कर्मचारियों को तैनात किया है.

देहरादून:

उत्तराखंड के औली में 200 करोड़ की हाई प्रोफाइल शादी के बाद छूटे 4 टन कचरे को साफ करने के लिए गुप्ता परिवार ने नगर निगम को यूजर चार्ज के रूप मे  54 हजार रुपए दिए हैं.  परिवार ने कचरे के प्रबंधन के लिए पूरा भुगतान करने पर सहमति जताई है. पहाड़ी शहर औली में शादी के बाद बचे कचरे को लेकर परिवार की काफी आलोचना हो रही है और ये मामला कोर्ट में भी पहुंच गया है. नगर पालिका अध्यक्ष शैलेंद्र पंवार ने कहा, "गुप्ता परिवार ने यूजर चार्ज के रूप में 54,000 रुपये जमा किए थे. अब तक 150 क्विंटल से अधिक कचरे की सफाई की जा चुकी है. सफाई का काम पूरा होने के बाद, मैनुअल लेबर और वाहनों सहित सभी खर्चों का बिल बनाकर उन्हें भेज दिया जाएगा. परिवार पूरे बिल का भुगतान करने और नागरिक निकाय को एक वाहन देने के लिए सहमत हो गया है. ”

माउंट एवरेस्ट पर मिला 11 टन कचरा, करोड़ों में साफ की जा रही है दुनिया के सबसे ऊंची चोटी


नगर निगम ने कचरे को साफ करने के लिए 20 कर्मचारियों को तैनात किया है.  वहीं उच्च न्यायालय ने जिला प्रशासन और प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को कचरे के कारण पर्यावरण को होने वाले नुकसान पर 7 जुलाई तक एक रिपोर्ट प्रस्तुत करने का  निर्देश दिया है. इस मामले में अगली सुनवाई अब 8 जुलाई को है. इस शादी को लेकर एक जनहित याचिका भी दाखिल की गई थी, जिसमें कहा गया था कि शादी की तैयारियां पर्यावरण को नुकसान पहुंचा रही हैं.

कुंभ का कचरा बन रहा इलाहाबादियों के लिए मुसीबत और अधिकारियों के लिए कमाई का जरिया

बता दें इस शादी में कटरीना कैफ, योग गुरु बाबा रामदेव जैसी कई हस्तियों ने शिरकत की. रामदेव ने शादी में दो घंटे का योग सत्र भी आयोजित किया. मेहमानों को लाने ले जाने के लिए हेलीकॉप्टर किराए पर लिए गए थे. इतना ही नहीं  लगभग सभी होटल और रिसॉर्ट बुक कर लिए गए थे और स्विट्जरलैंड से फूल मंगलवाए गये थे. 

टिप्पणियां

वीडियो: कुंभ के कूड़े से जीना दुश्वार, गांव वाले परेशान



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... 15 दस्तावेज देकर भी खुद को भारतीय साबित नहीं कर पाई असम की जाबेदा, कानूनी लड़ाई में खो बैठी सब कुछ

Advertisement