NDTV Khabar

रेयान स्कूल हत्याकांड : सात दिन में दाखिल होगी चार्जशीट, पैनल करेगा जांच

तीन सदस्यीय पैनल सोमवार को अपनी रिपोर्ट देगा और उसके आधार पर समुचित कार्रवाई की जाएगी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
रेयान स्कूल हत्याकांड : सात दिन में दाखिल होगी चार्जशीट, पैनल करेगा जांच

गुरुग्राम स्कूल में बच्चे की हत्या का आरोपी 3 दिन की पुलिस रिमांड पर...

खास बातें

  1. जिला प्रशासन ने यह जांच करने के लिए तीन सदस्यीय एक पैनल बनाया है
  2. हरियाणा सरकार ने सभी स्कूलों की सुरक्षा की समीक्षा करने के आदेश दिए
  3. हत्या का कारण पूछे जाने पर आरोपी बोला, "मैं अपना विवेक खो चुका था"
गुरुग्राम/नई दिल्ली:

पुलिस ने गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में सात साल के बच्चे की निर्मम हत्या के मामले में जांच पूरी कर सात दिन के अंदर चार्जशीट दाखिल करने का वादा किया. गुड़गांव के भोंडसी स्थित रयान इंटरनेशनल स्कूल में दूसरी कक्षा के सात वर्षीय छात्र की हत्या की घटना से पूरा देश स्तब्ध रह गया था. जिला प्रशासन ने यह जांच करने के लिए तीन सदस्यीय एक पैनल बनाया है कि क्या कहीं स्कूल ने सुरक्षा मानकों का उल्लंघन तो नहीं किया था. पैनल में जिला शिक्षा अधिकारी, ब्लॉक शिक्षा अधिकारी और महिला एवं बाल विकास विभाग का एक अधिकारी शामिल है.

उन्होंने बताया कि पैनल सोमवार को अपनी रिपोर्ट देगा और उसके आधार पर समुचित कार्रवाई की जाएगी. इस बीच, मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के नेतृत्व वाली हरियाणा सरकार ने प्रदेश के सभी स्कूलों की सुरक्षा की समीक्षा करने के आदेश दिए हैं.


केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने भी मामले में जांच के लिए शनिवार को दो सदस्यीय समिति का गठन किया और स्कूल प्रबंधन से दो दिन के भीतर रिपोर्ट मांगी. बच्चा कल स्कूल के शौचालय में मृत मिला था. उसका गला रेता गया था. बच्चों के अभिभावकों के रोष के बाद सीबीएसई ने जांच समिति बनाने का कदम उठाया है. गुड़गांव के पुलिस आयुक्त संदीप खीरवार ने दावा किया कि इस जघन्य अपराध में, गिरफ्तार किए गए स्कूल बस के कंडक्टर अशोक कुमार की संलिप्तता सामने आई है.

यह भी पढें: हत्या आरोपी 3 दिन की पुलिस रिमांड पर, परिवार ने कहा-दबाव में कबूला गुनाह

उन्होंने बताया कि अशोक कुमार यौन उत्पीड़न करने के इरादे से शौचालय के अंदर किसी छात्र के आने का इंतजार कर रहा था. पीड़ित बच्चा शौचालय में गया. उसने कुमार की हरकत का विरोध किया जिसके बाद कुमार ने उसकी हत्या कर दी. बच्चे का गला कटा हुआ था.

खीरवार ने बताया "कुमार ने कहा कि वह डर गया था और यह सोच कर उसने बच्चे को मार डाला कि कहीं वह स्कूल के प्रबंधन को अपराध के बारे में न बता दे. वह चाकू को शौचालय में ही छोड़ गया. वहां से जाने से पहले उसने हाथ भी धोए. यह सुनियोजित तरीके से किया गया अपराध था."

उन्होंने बताया कि पुलिस मामले की जांच पूरी कर सात दिन के अंदर आरोपपत्र दाखिल कर देंगे." खीरवार ने कहा कि इस मामले में हम शीघ्र सुनवाई के लिए विशेष अदालत गठित करने की मांग करेंगे ताकि आरोपी को कड़ी सजा मिल सके.

यह भी पढ़ें: रेयान इंटरनेशनल स्कूल प्रिंसिपल सस्पेंड, लोगों का प्रदर्शन जारी

अधिकारी ने बताया "कुमार के कपड़े, हत्या में प्रयुक्त चाकू को फॉरेन्सिक जांच के लिए भेजा गया है. उसकी तीन दिन की पुलिस रिमांड के दौरान हम अपराध के क्रम के बारे में फिर से पूछताछ करेंगे और हर पहलू की जांच करेंगे." इससे पहले, एक स्थानीय अदालत ने दिन में कुमार को तीन दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया.

टिप्पणियां

VIDEO : हत्या आरोपी 3 दिन की पुलिस रिमांड पर

कुछ टीवी चैनलों ने आरोपी से सवाल पूछे और जानना चाहा कि क्या उसने अपराध को अंजाम दिया. इस पर आरोपी ने हां में जवाब दिया. हत्या का कारण पूछे जाने पर उसने कहा "मैं अपना विवेक खो चुका था." चाकू के बारे में पूछने पर उसने बताया कि स्कूल बस में चाकू हमेशा होता था और वह उसे धोने के लिए गया था. इस बीच, बच्चे के परिवार वालों ने असंतुष्टि जाहिर करते हुए पूरे मामले की सीबीआई जांच की मांग की है.
(इनपुट भाषा से भी)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement