NDTV Khabar

हार्दिक पटेल ने पाटीदार आरक्षण और किसानों की ऋण माफी को लेकर 19 दिन से जारी भूख हड़ताल खत्म की

पाटीदार आरक्षण और किसानों की ऋण माफी को लेकर हार्दिक पटेल ने 19 दिनों से जारी अनिश्चितकालीन अनशन को आज खत्‍म कर दिया.

2K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
हार्दिक पटेल ने पाटीदार आरक्षण और किसानों की ऋण माफी को लेकर 19 दिन से जारी भूख हड़ताल खत्म की

पाटीदार नेता हार्दिक पटेल 25 अगस्त से भूख हड़ताल पर थे..

खास बातें

  1. पाटीदार नेता ने खत्म किया अनशन
  2. 19 दिन से भूख हड़ताल पर थे हार्दिक
  3. किसानों की ऋण माफी, पाटीदार आरक्षण की थी मांग
नई दिल्ली:

पाटीदार आरक्षण और किसानों की ऋण माफी को लेकर हार्दिक पटेल ने 19 दिनों से जारी अनिश्चितकालीन अनशन को आज खत्‍म कर दिया. पाटीदारों के लिए आरक्षण और कृषि कर्ज माफी की मांग को लेकर गुजरात सरकार और पटेल के बीच कोई बातचीत नहीं हुई. पाटीदार समुदाय के नेताओं नरेश पटेल और सीके पटेल के हाथों नींबू पानी पीकर हार्दिक ने अपना उपवास खत्म किया. उपवास खत्म करने के बाद आरक्षण समर्थक नेता ने कहा, 'अपने समुदाय के लिए आरक्षण और कृषि कर्ज माफी के लिए लड़ाई जारी रहेगी.' बता दें कि अनशन के दौरान हार्दिक पटेल को कई नेताओं का समर्थन मिला जिसमें बीजेपी के बागवती तेवर वाले शत्रुघ्‍न सिन्‍हा ने भी समर्थन दिया था. वहीं मंगलवार को उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने हार्दिक पटेल से मुलाकात की और अनुरोध किया कि वह अनशन खत्म कर दें. 


यह भी पढ़ें :  हार्दिक पटेल बोले, पेट्रोल पंप का नाम बदलकर 'प्रधानमंत्री वसूली केंद्र' रखे तो कैसा रहेगा
 
रावत ने पटेल के आवास पर उनसे मुलाकात कर उन्हें अपना समर्थन दिया. पाटीदार आरक्षण की मांग करने वाले पटेल के साथ बैठक के बाद रावत ने संवाददाताओं को बताया कि उन्होंने पटेल को अनशन खत्म करने और इस मुद्दे को उजागर करने के लिए विरोध का कोई और माध्यम अपनाने की सलाह दी है. रावत ने कहा, 'मैंने उनसे कहा है कि उनका जीवन देश के किसानों, पाटीदारों और युवाओं के लिए बेहद महत्वपूर्ण है. मैं उनसे अनशन खत्म करने की अपील करता हूं. भूख हड़ताल की जगह उन्हें विरोध के अन्य माध्यम अपनाने चाहिए जैसे कि प्रदर्शन या पैदल यात्रा.' 

यह भी पढ़ें :  हार्दिक पटेल को अस्पताल से छुट्टी मिलते ही Facebook Live के जरिये समर्थकों से की थी यह अपील

टिप्पणियां
पटेल ने ओबीसी कोटा के तहत पाटीदार आरक्षण और गुजरात के किसानों की ऋण माफी के लिए अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल 25 अगस्त से शुरू की थी. दलित नेता प्रकाश आंबेडकर ने हार्दिक पटेल के साथ बैठक के बाद कहा कि अब समय आ गया है कि संसद में आरक्षण की सीमा को 50 फीसदी से ज्यादा बढ़ाए जाने पर चर्चा होनी चाहिए. 

VIDEO: अनशन से मिलेगा आरक्षण?



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement