NDTV Khabar

हरियाणा : एंबुलेंस का रास्ता रोकने की वजह से मरीज की मौत, बीजेपी नेता पर आरोप

मृतक के परिजनों का कहना है कि बीजेपी नेता ने आधे घंटे तक एंबुलेंस को रोके रखा जिससे मरीज़ की तबीयत बिगड़ गई और अस्पताल पहुंचते ही उसकी मौत हो गई. 

74 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
हरियाणा : एंबुलेंस का रास्ता रोकने की वजह से मरीज की मौत, बीजेपी नेता पर आरोप

फतेहाबाद में एंबुलेंस का रास्ता रोकने की वजह से एक मरीज की मौत

खास बातें

  1. बीजेपी नेता ने आधे घंटे तक एंबुलेंस को रोके रखा
  2. बीजेपी नेता ने कहा- ऐसा नहीं किया
  3. दोनों ओर से दर्ज करवाई गई है शिकायत
हरियाणा के फतेहाबाद में एंबुलेंस का रास्ता रोकने की वजह से एक मरीज़ की मौत हो गई. आरोप बीजेपी नेता और नगर परिषद के प्रधान दर्शन नागपाल पर है. मृतक के परिजनों का कहना है कि बीजेपी नेता ने आधे घंटे तक एंबुलेंस को रोके रखा जिससे मरीज़ की तबीयत बिगड़ गई और अस्पताल पहुंचते ही उसकी मौत हो गई. नाराज़ परिजनों ने आरोपी बीजेपी नेता के खिलाफ थाने में लिखित शिकायत दी है. इधर आरोपी का कहना है कि एंबुलेंस ने उनकी कार में टक्कर मार दी, लेकिन एंबुलेंस में मरीज़ होने की वजह से उन्होंने एंबुलेंस को नहीं रोका. आरोपी की ओर से भी थाने में शिकायत दर्ज कराई गई है.

पढ़ें: चंडीगढ़ केस : छेड़खानी की घटना से जुड़े 5 CCTV कैमरों के फुटेज गायब- कांग्रेस

गौरतलब है कि हरियाणा बीजेपी के अध्यक्ष सुभाष बराला के बेटे विकास बराला के खिलाफ छेड़खानी के आरोप का मामला भी तूल पकड़ता जा रहा है. कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि इस घटना से जुड़े पांच सीसीटीवी कैमरों के फुटेज गायब हैं. वहीं हरियाणा बीजेपी के अध्यक्ष बेटे और उसके एक साथी को थाने से ही ज़मानत दिए जाने और इस मामले में अपहरण की धाराएं न लगाए जाने पर सवाल उठ रहे हैं. हालांकि इस मामले में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा है कि इसे व्यक्तिगत मामले की तरह देखना चाहिए, हरियाणा बीजेपी के अध्यक्ष से इसका कोई लेना-देना नहीं है. 

पढ़ें: हरियाणा के हिसार में गोली मारकर दो भाइयों की हत्या

VIDEO: एंबुलेंस का रास्ता रोके जाने से मरीज की मौत



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement