हरियाणा में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या 43 हुई, अब तक 13 हुए ठीक

वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये मीडिया को संबोधित करते हुए अतिरिक्त मुख्य सचिव (स्वास्थ्य) राजीव अरोड़ा ने बताया, ‘‘शुक्रवार सुबह तक राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या 43 हो गई है, इनमें से 13 ठीक हो चुके हैं.’’

हरियाणा में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या 43 हुई, अब तक 13 हुए ठीक

चंडीगढ़:

Haryana Coronavirus Updates: हरियाणा के नूंह और गुरुग्राम जिलों में कोरोनावायरस (Coronavirus) संक्रमण के नये मामले सामने आने के साथ शुक्रवार को राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या 43 पर पहुंच गई. स्वास्थ्य विभाग के बुलेटिन के मुताबिक गुरुग्राम में केरल निवासी तीन लोग और महाराष्ट्र के रहने वाले दो लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं. उत्तर प्रदेश निवासी एक व्यक्ति जो गुरुग्राम में रह रहा है, में भी संक्रमण की पुष्टि हुई है. वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये मीडिया को संबोधित करते हुए अतिरिक्त मुख्य सचिव (स्वास्थ्य) राजीव अरोड़ा ने बताया, ‘‘शुक्रवार सुबह तक राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या 43 हो गई है, इनमें से 13 ठीक हो चुके हैं.'' इस वीडियो कांफ्रेंसिंग में अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) विजय वर्धन और पुलिस महानिदेशक मनोज यादव भी मौजूद थे. उन्होंने बताया, ‘‘अभी जिन 30 संक्रमितों का इलाज चल रहा है उनमें छह गुरुग्राम के, पांच फरीदाबाद के, तीन अंबाला के, एक हिसार का, तीन नूंह के, तीन पलवल के, दो पानीपत के, दो पंचकूला के, एक रोहतक का, तीन सिरसा के और एक सोनीपत का है.

हरियाणा में गूरुवार को कोरोना वायरस से पहली मौत दर्ज की गई. डॉक्टरों के मुताबिक 67 वर्षीय मरीज कई अन्य बीमारियों से भी ग्रस्त था और उसकी मौत स्नाकोत्तर चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान संस्थान चंडीगढ़ में हुई. अरोड़ा ने स्वास्थ्य विभाग द्वारा संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए किए गए उपायों की विस्तृत जानकारी दी. उन्होंने बताया, ‘‘हमने पहले ही 24 घंटे काम करने वाला हेल्पलाइन सह नियंत्रण कक्ष बनाया है जिसमें टेलीमेडिसीन की भी सुविधा उन लोगों के लिए है जो डॉक्टरों से परामर्श के लिए संपर्क नहीं कर पा रहे हैं.''

अरोड़ा ने बताया, ‘‘सरकारी क्षेत्र में रोहतक स्थित पीजीआईएमएस में प्रयोगशाला कार्यरत है जबकि एक प्रयोगशाला सोनीपत में बनायी गयी है. उन्होंने कहा, ‘‘हम नूंह, हिसार, करनाल, रोहतक और पंचकूला में जांच के लिए प्रयोगशाला बनाने की प्रक्रिया में हैं.'' अरोड़ा के मुताबिक सरकार पहले ही गुरुग्राम में निजी क्षेत्र की पांच प्रयोगशालाओं को जांच की अनुमति दी गई है. राज्य में कोरोना वायरस संक्रमितों के लिए 7,346 बिस्तर निर्धारित किए गए हैं.

Newsbeep

उन्होंने बताया, ‘‘छह सरकारी और सहायता प्राप्त चिकित्सा महाविद्यालय और 25 अस्पतालों को कोरोना वायरस अस्पताल के तौर पर ‍चिन्हित किया गया है. अरोड़ा ने बताया कि सरकार ने गुरुग्राम और फरीदाबाद स्थित ईएसआईसी अस्पताल को विशेष रूप से कोरोना वायरस अस्पताल के रूप में आरक्षित किया गया है और हम झज्जर स्थित वर्ल्ड कॉलेज ऑफ मेडिकल साइंसेज एंड रिसर्च को भी प्रमुख कोरोना वायरस इलाज केंद्र के रूप में शामिल करने का प्रयास कर रहे हैं. चिकित्सा पेशेवरों के लिए व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (पीपीई)आदि की कमी के बारे में पूछे जाने पर अरोड़ा ने बताया कि इस मोर्चे पर हालात में सुधार हुआ है. अब हमारे पास 19,000 से अधिक पीपीई किट, 90 हजार एन-95 मास्क और 10 लाख से अधिक तीन परत वाले मास्क हैं जो विभिन्न अस्पतालों को मुहैया कराए गए हैं.

ICMR के साइंटिस्ट ने कहा, 'हॉटस्पॉट वाले क्षेत्रों में रैपिड एंटीबॉडी टेस्ट है कारगर

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com