हरियाणा : ट्रेन में शख्‍स की पीटकर हत्‍या करने के आरोपी ने कहा, 'उसे कहा गया था कि वो बीफ खाते हैं'

पीड़ितों में से एक द्वारा पुलिस के सामने दर्ज करवाई गई शिकायत या एफआईआर में बीफ का जिक्र नहीं है. पुलिस अधिकारियों का कहना है कि सीट को लेकर हुई बहस के बाद यात्रियों में झगड़ा हुआ.

हरियाणा : ट्रेन में शख्‍स की पीटकर हत्‍या करने के आरोपी ने कहा, 'उसे कहा गया था कि वो बीफ खाते हैं'

खुद को रमेश बताने वाले इस शख्‍स ने यह भी बताया कि वह नशे में था

खास बातें

  • शुक्रवार को विवाद के बाद 16 वर्षीय लड़के की पीटकर हत्‍या कर दी गई थी
  • पुलिस के सामने दर्ज करवाई गई एफआईआर में बीफ का जिक्र नहीं है
  • चारों ही लोग दिल्‍ली में ईद की खरीदारी कर वापस अपने गांव लौट रहे थे
बल्‍लभगढ़:

दिल्ली के पास बल्लभगढ़ में एक लोकल ट्रेन में 4 मुस्लिम युवकों के साथ मारपीट और एक शख्स की हत्या के मामले में पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है, वहीं कई संगठनों ने भीड़ द्वारा पीट-पीट कर हत्या के बढ़ते मामलों पर गहरी चिंता जाहिर की है.

मामले में गिरफ्तार आरोपी का कहना है कि उसके दोस्‍तों ने उससे कहा था कि उनलोगों को मारो क्‍योंकि वो लोग बीफ खाते हैं. जब पत्रकारों ने आरोपी से पूछा कि उसे क्यों मारा, क्या कोई बीफ की बात हुई थी? इसपर आरोपी ने कहा, 'मैं शराब के नशे में था. मुझे फोन कर बुलाया गया था. मैंने बीफ की बात नहीं की, मेरे दोस्त कह रहे थे कि ये गाय खाते हैं, इन्हें मारो.' ये आरोपी उसी भीड़ का हिस्सा है जिसने गुरुवार को एक लोकल ट्रेन में पीट-पीटकर जुनैद नाम के शख्स की हत्या कर दी जबकि जुनैद के तीन भाई घायल हैं. आरोपी खुद मान रहा है कि झगड़ा दिल्ली से ही सीट को लेकर शुरू हुआ और बल्लभगढ़ पहुंचने के बाद ट्रेन में साम्प्रदायिक टिप्पणी तक पहुंच गया. उग्र भीड़ ने ट्रेन में 4 मुस्लिम लड़कों की जमकर पिटाई की और चाकू मारे.

 
train lynching incident

एम्स में भर्ती जुनैद का भाई शाकिर उस भयावह घटना को याद कर सिहर उठता है. उसके मुताबिक भीड़ में मौजूद लोग कह रहे थे, "तुम पाकिस्तानी हो, बीफ खाते हो, कठमुल्ले हो, जाओ पाकिस्तान यहां क्या कर रहे हो." उधर पीड़ित परिवार के मुताबिक उनके घर मदद के लिए अब तक कोई सरकारी नुमाइंदा नहीं पहुंचा है. परिवार आरोपियों के खिलाफ कड़ी करवाई चाहता है. जीआरपी फरीदाबाद के एसपी कमलदीप के मुताबिक एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है, 4 मुख्य आरोपी हैं और बाकी अज्ञात हैं. सभी बल्लभगढ़ के आसपास के ही रहने वाले हैं, सबकी तलाश जारी है.

वहीं कई नेताओं और संगठनों ने भीड़ द्वारा पीटकर हत्या के बढ़ते मामलों पर गहरी चिंता ज़ाहिर की गई है. सीपीआई नेता वृंदा करात भी शनिवार को पीड़ित परिवारों से मिलीं और उन्होंने कहा कि बीजेपी और आरएसएस समाज में ऐसा ज़हर घोल रहे हैं कि बाजार, बस अड्डों, ट्रेनों और तमाम सार्वजनिक जगहों पर भीड़ लोगों की हत्या कर रही है.

पकड़े गए आरोपी को पुलिस ने कोर्ट में पेश किया, कोर्ट ने उसे 3 दिन की पुलिस रिमांड में भेज दिया है.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com