राहुल व प्रियंका गांधी समेत 5 लोगों को पीड़ित परिवार से मिलने के लिए हाथरस जाने की इजाजत मिली

Hathras Case: राहुल गांधी ने आज सुबह अपने ट्वीट में लिखा, "दुनिया की कोई भी ताक़त मुझे हाथरस के इस दुखी परिवार से मिलकर उनका दर्द बांटने से नहीं रोक सकती." 

राहुल व प्रियंका गांधी समेत 5 लोगों को पीड़ित परिवार से मिलने के लिए हाथरस जाने की इजाजत मिली

Hathras Rape Case: राहुल गांधी को हाथरस जाने से रोकने के लिए कड़े इंतजाम (फाइल फोटो)

खास बातें

  • राहुल गांधी को रोकने के लिए यूपी पुलिस ने कसी कमर
  • डीएनडी पर एक को छोड़कर सभी लेन बंद की
  • हर गाड़ी की जा रही है चेकिंग
नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश के हाथरस (Hathras) में 20 वर्षीय लड़की के साथ हुई हैवानियत को लेकर पूरे देश में रोष है. इस बीच, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) और प्रियंका गांधी दोबारा हाथरस जाने की कोशिश करने के लिए दिल्ली से निकल चुके हैं. राहुल और प्रियंका के अलावा अन्य कांग्रेस नेताओं को पुलिस ने डीएनडी पर रोक लिया है. सिर्फ 5 लोगों को इजाजत दी गई है. राहुल और प्रियंका गांधी की अगुवाई में कांग्रेसी मृतका के परिवार से बात करेंगे. पिछले महीने हाथरस में दलित महिला के साथ गैंगरेप का मामला सामने आया था. महिला की इलाज के दौरान अस्पताल में मौत हो गई. पुलिस प्रशासन ने आनन-फानन में रात ढाई बजे महिला का अंतिम संस्कार कर दिया था. इन चीजों को लेकर सरकार और पुलिस की आलोचना हो रही है. 

हालांकि, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी का दिल्ली-नोएडा डायरेक्ट (DND) फ्लाईवे पर पुलिसकर्मियों से आमना सामना होगा. यहां पर करीब 100 पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है. पुलिस की ओर से निर्देश दिए गए हैं कि कांग्रेस नेताओं को दिल्ली-नोएडा का बॉर्डर पार नहीं करने दिया जाए.

जानकारी के मुताबिक, राहुल गांधी दोपहर 2.30 बजे दिल्ली से निकले हैं. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी टोयोटा इनोवा चला रही हैं और राहुल गांधी उनके बगल वाली सीट पर बैठे हैं.

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल शनिवार दोपहर को पीड़िता के परिवार से मुलाकात करेगा. कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल पीड़ित परिवार की शिकायतें सुनेगा और पीड़िता तथा उसके परिवार को न्याय दिलाने के लिए मांग करेगा.

राहुल गांधी ने आज सुबह अपने ट्वीट में लिखा, "दुनिया की कोई भी ताक़त मुझे हाथरस के इस दुखी परिवार से मिलकर उनका दर्द बांटने से नहीं रोक सकती." 

इस बीच, हाथरस सदर एसडीएम प्रेम प्रकाश मीणा ने कहा कि राहुल गांधी को गांव आने इजाजत नहीं है, किसी भी राजनीतिक पार्टी के नेता के आने पर फिलहाल रोक है.

सूत्रों ने एनडीटीवी को बताया कि राहुल गांधी का गांव पहुंचना आसान नहीं होगा क्योंकि उत्तर प्रदेश पुलिस ने दिल्ली-नोएडा सीमा पर उन्हें रोकने के लिए कड़े बंदोबस्त किए हैं.समाचार एजेंसी एनआईए की ओर से शेयर की गई तस्वीरों में राहल गांधी के आगमन को देखते दिल्ली-नोएडा डायरेक्ट फ्लाईवे पर बैरिकेड लगे हुए दिखाई दे रहे हैं.

उत्तर प्रदेश पुलिस ने डीएनडी की सभी लेन को बंद कर दिया है, केवल एक लेन खोली गई है, जिसकी वजह से काफी ट्रैफिक जाम है. पुलिस हर एक गाड़ी की तलाशी ले रही है.

बता दें कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा गुरुवार को भी पीड़िता के परिजनों से मिलने के लिए हाथरस जा रहे थे. उनका आरोप था कि पहुंचने से पहले ही उन्हें पुलिस प्रशासन द्वारा रोक लिया गया. राहुल गांधी ने इस दौरान कहा, ''अभी पुलिस ने मुझे धक्‍का दिया, मुझ पर लाठीचार्ज किया और मुझे जमीन पर गिरा दिया. क्‍या सामान्‍य आदमी सड़क पर नहीं चल सकता." उन्हें हिरासत में ले लिया गया था.

Newsbeep

(एजेंसियों के इनपुट के साथ)

वीडियो: हाथरस कांड पर गुस्से में देश, कई राज्यों में हो रहे प्रदर्शन

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com