हाथरस गैंगरेप : 14 को वारदात, 29 को मौत, शिकायत दर्ज न करने से जबरन अंत्येष्टि तक, जानें, अब तक क्या-क्या हुआ?

Hathras Gangrape: हाथरस में गैंगरेप की शिकार 19 साल की युवती की मंगलवार सुबह दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में मौत हो गई.

हाथरस गैंगरेप : 14 को वारदात, 29 को मौत, शिकायत दर्ज न करने से जबरन अंत्येष्टि तक, जानें, अब तक क्या-क्या हुआ?

Hathras Gangrape:  29-30 सितंम्बर की सुबह परिवार के विरोध के बावजूद पीड़िता का अंतिम संस्कार कर दिया गया

नई दिल्ली:

Hathras Gangrape: हाथरस में गैंगरेप की शिकार 19 साल की युवती की मंगलवार सुबह दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में मौत हो गई. इस घटना ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया है. हैवानियत की हदें पार करने वाली यह घटना उत्तर प्रदेश के हाथरस में 14 सितंबर को हुई. पुलिस का कहना है कि पीड़िता अपने भाई के साथ खेत में घास काटने के लिए गई थी. पीड़िता के भाई ने शिकायत दी कि उसकी बहन को संदीप नाम के एक लड़के हत्या की कोशिश की. पुलिस ने 14 सितंम्बर को हत्या की कोशिश, एससी-एसटी एक्ट की धाराओं में मामला दर्ज किया. युवती को जब सोमवार को दिल्ली के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया तो उसकी हालत खासी नाजुक थी. पीड़िता की रीढ़ की हड्डी पर गहरे जख्म थे जिसके कारण वह पैरालिसिस का शिकार हो गई थी. उसकी जीभ काटने के भी निशान थे.

14 सितंबर: पीड़िता के साथ दुर्दांत घटना घटित हुई. पुलिस के अनुसार वह अपने भाई के साथ खेत में घास काटने के लिए गई थी. भाई ने शिकायत दर्ज कराई कि संदीप नाम के लड़के ने हत्या की कोशिश की. युवक के खिलाफ हत्या की कोशिश,एससी-एसटी एक्ट और छेड़खानी की धाराओं में केस दर्ज किया गया. 

19 सितंबर: पीड़िता के भाई की शिकायत के आधार पर संदीप नाम के युवक को गिरफ्तार किया गया. 

22 सितंबर: पीड़िता बयान देने की हालत में नहीं थी इसलिए 22 सितंबर को उसका बयान लिया गया. बयान में पीड़िता ने गैंगरेप की बात कही और 3 और लड़कों लवकुश ,रवि और रामकुमार  के नाम बताए. 

23 सितंबर: पुलिस ने FIR में गैंगरेप की धारा जोड़कर आरोपी लवकुश को गिरफ्तार किया. 

25 सितंबर: आरोपी रवि को को गिरफ़्तार किया गया. 

26 सितंबर: आरोपी रामकुमार को गिरफ्तार किया गया. 

28 सितंबर: हालत बिगड़ने के बाद पीड़िता को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

29 सितंबर: अत्यंत पीड़ा के बाद पीड़िता की मौत हो गई, अस्पताल में पोस्टमार्टम हुआ. 29-30 सितंम्बर की सुबह पीड़िता का उसके परिवार के विरोध के बावजूद अंतिम संस्कार कर दिया गया. 

हाथरस प्रशासन ने दावा किया है कि पीड़िता की मेडिकल जांच में बलात्कार की की पुष्टि नहीं है, जबकि जीभ काटने वाली बात भी नहीं दर्ज है. अब सफदरजंग अस्पताल की पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार हो रहा है. परिवार का कहना है कि पीड़िता के गांव के उच्चजाति के 4 लड़कों ने गैंगरेप किया और पुलिस ने समय पर कार्रवाई नहीं की. उन्होंने बताया कि पुलिस वे परिवार से कहा कि लड़की चोट लगने का नाटक कर रही है.