गांव यात्रा पर उठे सवाल तो बोले कर्नाटक के सीएम कुमारस्वामी- नहीं लिया था 5 स्टार ट्रीटमेंट, सड़क पर भी सो सकता हूं

कुमारस्वामी की यह टिप्पणी तब सामने आई है जब रिपोर्ट में कहा गया था कि उन्हें गांव में लक्जरी ट्रीटमेंट दिया जा रहा है. उनकी यात्रा से पहले गांव के बाथरूम का नवीनीकरण किया गया था.

गांव यात्रा पर उठे सवाल तो बोले कर्नाटक के सीएम कुमारस्वामी- नहीं लिया था 5 स्टार ट्रीटमेंट, सड़क पर भी सो सकता हूं

खास बातें

  • कर्नाटक के सीएम एचडी कुमारस्वामी ने हालही में अपना विलेज कैंपेन शुरू किया
  • यात्रा पर सवाल उठे तो बोेले- नहीं लिया था 5 स्टार ट्रीटमेंट
  • 'जब मेरे पिता पीएम थे तब मैं ग्रांड क्रेमलिन पैलेस रूस में सोया'
कर्नाटक:

सीएम एचडी कुमारस्वामी (HD Kumaraswamy) ने हालही में अपना विलेज कैंपेन शुरू किया है. गुरुमितकल के यादगिर जिले में ग्रामा वास्तव्य 2.0 के तहत शुक्रवार को कुमारस्वामी ने उन दावों को खारिज किया जिसमें कहा गया था कि उन्हें गांव में 5 स्टार ट्रीटमेंट दिया जा रहा है. कुमारस्वामी ने कहा कि वह रोड पर सोने के लिए भी तैयार थे. चंद्राकी गांव में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कुमारस्वामी ने कहा, 'क्या थी 5 स्टार की व्यवस्था? मैं रोड पर सोने को तैयार हूं. विपक्ष से कहना चाहता हूं कि अगर मैं आम सुविधाएं भी नहीं ले सकता तो मैं हर दिन काम कैसे करूंगा? एक छोटा सा बाथरूम बनाया गया था. इसे मैं अपने साथ नहीं लेकर जाऊंगा.' 

H-1B वीजा की संख्या सीमित करने के मामले में भारत को राहत देंगे अमेरिकी विदेश मंत्री, अधिकारी ने किया दावा

कुमारस्वामी की यह टिप्पणी तब सामने आई है जब रिपोर्ट में कहा गया था कि उन्हें गांव में लक्जरी ट्रीटमेंट दिया जा रहा है. उनकी यात्रा से पहले गांव के बाथरूम का नवीनीकरण किया गया था. 

वहीं इस मामले में कुमारस्वामी ने कहा, 'यह बच्चों की मदद करेगा. मैं यहां एक सामान्य बस से आया. मैं वॉल्वो बस से नहीं आया था. मुझे बीजेपी से सीखने की जरूरत नहीं है. मैं एक झोपड़ी के साथ-साथ 5 स्टार होटल में सोया था. जब मेरे पिता प्रधानमंत्री थे तब मैं ग्रांड क्रेमलिन पैलेस रूस में सोया था. मैंने जीवन में सबकुछ देखा है. 

कुमारस्वामी ने कहा, 'मेरे कुछ दोस्तों ने मुझसे पूछ रहे हैं कि मैंने गांवों में रुकने का कार्यक्रम क्यों बनाया, वे विधान सोउदा में बैठ सकते हैं और काम कर सकते हैं. मैं उनसे कहना चाहता हूं कि ये चालबाजियां विपक्ष के लिए हैं. मेरे लिए नहीं हैं.' गांव की यात्रा के दौरान कुमारस्वामी ने स्कूल के बच्चों के साथ भी बातचीत की और उनकी समस्याओं को सुना. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

बाइक बोट ने दूसरी कंपनियों को डायवर्ट किए 650 करोड़, दो दर्जन बैंक खाते फ्रीज

किसानों की समस्याओं के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा, 'किसानों की कर्जमाफी पर हमारे पास पूरी जानकारी है. कलबुर्गी जिला सेंट्रल कॉरपोरेटिव बैंक के लिए 100 करोड़ रुपए जारी किए जाएंगे. किसानों के नए लोन के लिए फैसला कॉरपोरेट मंत्री द्वारा किया जाएगा.