Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

CAA को लेकर हुई हिंसा के दौरान पुलिस कार्रवाई पर हाईकोर्ट ने योगी सरकार से तलब की रिपोर्ट

कई शहरों में प्रदर्शन के दौरान हुई हिंसा की न्यायिक जांच की मांग को लेकर कई याचिकाएं दायर की गई थीं. इलाहाबाद हाईकोर्ट ने सभी याचिकाओं पर एक साथ सुनवाई की और राज्य सरकार ने हलफनामा के साथ जवाब दाखिल किया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
CAA को लेकर हुई हिंसा के दौरान पुलिस कार्रवाई पर हाईकोर्ट ने योगी सरकार से तलब की रिपोर्ट

फाइल फोटो

खास बातें

  1. अदालत ने घायल पुलिस वालों का ब्‍योरा भी तलब किया
  2. मृतकों के परिजनों को पोस्‍टमॉर्टम रिपोर्ट देने का भी निर्देश
  3. मामले की अगली सुनवाई अब 17 फरवरी को होगी
लखनऊ:

उत्तर प्रदेश में नागरिकता कानून (CAA) लागू होने के बाद से हुए विरोध प्रदर्शनों के दौरान पुलिस की कार्रवाई को लेकर इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) ने राज्‍य सरकार से रिपोर्ट तलब की है. सीएए (CAA) लागू होने के बाद यूपी के कई शहरों में उग्र प्रदर्शन देखने को मिले थे और पुलिस की ओर से कड़ी कार्रवाई के कई वीडियो भी सामने आए थे. कई शहरों में प्रदर्शन के दौरान हुई हिंसा की न्यायिक जांच की मांग को लेकर कई याचिकाएं दायर की गई थीं. इलाहाबाद हाईकोर्ट ने सभी याचिकाओं पर एक साथ सुनवाई की और राज्य सरकार ने हलफनामा के साथ जवाब दाखिल किया. लेकिन अदालत राज्‍य सरकार के हलफनामे से संतुष्‍ट नहीं हई. हाईकोर्ट ने कई बिन्दुओं पर राज्य सरकार से रिपोर्ट की मांग की. कोर्ट ने पूछा कि प्रदर्शनकारियों की ओर से अब तक कितनी शिकायतें की गई हैं और उनमें से कितनी शिकायतों पर पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है.

मायावती ने की सीएए, एनआरसी का विरोध करने वाली महिलाओं के खिलाफ मामले वापस लेने की मांग


अदालत ने हिंसा में मारे गए 23 प्रदर्शनकारियों की मौत के मामले में दर्ज एफआईआर और पोस्‍टमॉर्टम रिपोर्ट भी तलब की है. इसके अलावा अदालत ने घायलों की मेडिकल रिपोर्ट और हिंसा में घायल पुलिस वालों का ब्‍योरा भी तलब किया. अदालत ने मृतकों के परिजनों को पोस्‍टमॉर्टम रिपोर्ट देने का भी निर्देश दिया.

'कोई सार्वजनिक संपत्ति तोड़फोड़ करेगा तो वह सजा देंगे कि आने वाली पीढ़ी उन्हें याद करेगी'

मामले की अगली सुनवाई अब 17 फरवरी को होगी. मुंबई के वकील अजय कुमार की पीआईएल, पूर्व सीआईसी वजाहत हबीब उल्ला, सामाजिक कार्यकर्ता स्वामी अग्निवेश समेत 14 अर्जियों पर चीफ जस्टिस गोविंद माथुर और जस्टिस सिद्धार्थ वर्मा की डिवीजन बेंच में सुनवाई हुई.

टिप्पणियां

VIDEO: CAA के खिलाफ चल रहे प्रदर्शन को लेकर योगी आदित्यनाथ की भाषा पर सवाल



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें. India News की ज्यादा जानकारी के लिए Hindi News App डाउनलोड करें और हमें Google समाचार पर फॉलो करें


 Share
(यह भी पढ़ें)... IND vs AUS: अजीबोगरीब तरह से आउट हुईं हरमनप्रीत कौर, देखकर कीपर ने पकड़ लिया सिर, देखें Video

Advertisement