NDTV Khabar

बरेली और मुरादाबाद के बीच हुआ स्पेन से आए टैल्गो कोच का पहला 'स्पीड ट्रायल'

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बरेली और मुरादाबाद के बीच हुआ स्पेन से आए टैल्गो कोच का पहला 'स्पीड ट्रायल'
बरेली:

भारत में हाई स्पीड ट्रेन का सपना साकार करने के लिए स्पेन से आए टैल्गो कोच का रविवार को बरेली से मुरादाबाद के बीच पहला 'स्पीड ट्रायल रन' मुकम्मल होने के साथ ही भारतीय रेल के इतिहास में एक नया अध्याय जुड़ गया।

पूर्वोत्तर रेलवे के महाप्रबंधक राजीव मिश्र ने बरेली में बताया कि स्पेन से आए टैल्गो कोच का पहला स्पीड ट्रायल बरेली से हुआ। इसका सेंसर ट्रायल गत शुक्रवार को हुआ था। स्पीड ट्रायल के लिए देशी इंजन के पीछे विदेशी कोच लगाये गए।

देसी इंजन पर विदेशी कोच ने पकड़ी रफ्तार

उन्होंने बताया कि इज्जतनगर रेल मंडल का इंजन नौ टैल्गो कोच बरेली जंक्शन के प्लेटफार्म संख्या दो से मुरादाबाद के लिए सुबह 9.04 बजे रवाना हुआ जो 10.20 बजे मुरादाबाद पहुंचा। उसके बाद उसने इसी रूट से वापसी की। इस दौरान रेलगाड़ी को 100 से 115 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार से दौड़ाया गया।

दिल्ली-मुंबई रूट पर चलेंगे टैल्गो कोच
मिश्र ने बताया कि बरेली से मुरादाबाद के बीच 12 जून तक ट्रायल चलेगा। इसके बाद पलवल ट्रैक पर 180 किलोमीटर और दिल्ली से मुंबई के बीच 220 किलोमीटर की रफ़्तार से टैल्गो चलेगी। सभी ट्रायल पूरे होने के बाद रेल मंत्रालय ट्रायल रिपोर्ट का अध्ययन करके टैल्गो चलने का फैसला करेगा।


एल्युमिनियम के कोच काफी हल्के

उन्होंने बताया कि एल्युमिनियम के बने होने की वजह से टैल्गो कोच का वजन भारतीय कोच के मुकाबले काफी कम है। तकनीकी रूप से टैल्गो, ट्रेन के मुकाबले बेहतरीन है।
टिप्पणियां

मिश्र ने बताया कि टैल्गो में सुरक्षा के लिए पेंट्रीकार में ज्वलनशील गैस के इस्तेमाल की जगह माइक्रोवेव तथा खाना पकाने की अन्य तकनीक का सहारा लिया जाएगा।

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement