करतारपुर साहिब में रविवार को अब तक सबसे ज्यादा श्रद्धालुओं ने किए दर्शन

अधिकारियों ने बताया कि ऐतिहासिक करतारपुर गुरुद्वारा जाने वाले श्रद्धालुओं की संख्या इससे पहले कभी 700 से अधिक नहीं हुई.

करतारपुर साहिब में रविवार को अब तक सबसे ज्यादा श्रद्धालुओं ने किए दर्शन

तीर्थयात्रियों की संख्या बढ़ने में सुविधा केंद्रों की महत्वपूर्ण भूमिका

गुरदासपुर:

पाकिस्तान स्थित गुरुद्वारा दरबार साहिब में जाने वाले श्रद्धालुओं की संख्या रविवार को बढ़कर 1,467 हो गई, जो नौ नवंबर को करतारपुर गलियारे के खुलने के बाद अबतक सबसे अधिक है.  अधिकारियों ने बताया कि ऐतिहासिक करतारपुर गुरुद्वारा जाने वाले श्रद्धालुओं की संख्या इससे पहले कभी 700 से अधिक नहीं हुई. आव्रजन अधिकारियों को उम्मीद है कि लोगों को ऑनलाइन पंजीकरण की प्रक्रिया के बारे में जानकारी होने के बाद इस संख्या में और बढ़ोतरी होगी. 

 गुरु नानक ने रखी थी करतारपुर साहिब की नींव, जानिए 10 बातें

उन्होंने बताया कि इसके अलावा तीर्थयात्रियों की संख्या बढ़ने में सुविधा केंद्रों की भी महत्वपूर्ण भूमिका है. रावी दर्शन अभिलाषी संस्था के महासचिव तथा दिवंगत कुलदीप सिंह वडाला के विश्वस्त सहयोगी गुरविंदर बाजवा ने दरबार साहिब जाने के लिए पासपोर्ट की अनिवार्यता खत्म किये जाने की मांग की. 

करतारपुर पहुंचे सिद्धू ने पीएम मोदी की जमकर की तारीफ, कहा- आपको मुन्नाभाई स्टाइल में जादू की झप्पी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

उन्होंने कहा कि जैसे ही ये शर्त खत्म की जाएगी, तीर्थयात्रियों की संख्या बहुत अधिक बढ़ जाएगी, उन्होंने कहा कि ज्यादातर लोगों के पासपोर्ट नहीं है, लेकिन वे करतारपुर साहिब जाना चाहते हैं.  

Video: करतारपुर कॉरिडोर के उद्धाटन पर पाकिस्तान पहुंची NDTV की टीम