इराक में मारे गए लोगों के परिजनों को हिमाचल प्रदेश सरकार देगी चार-चार लाख रुपये

राज्य विधानसभा में सूबे के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि राज्य के चार युवकों की पहचान अमन कुमार, संदीप सिंह राणा, इंद्रजीत ( तीनों कांगड़ा जिले के निवासी) और मंडी जिले के हेमराज के रूप में हुई है.

इराक में मारे गए लोगों के परिजनों को हिमाचल प्रदेश सरकार देगी चार-चार लाख रुपये

प्रतीकात्मक चित्र

नई दिल्ली:

हिमाचल प्रदेश सरकार इराक में मारे गए प्रदेश के चार युवकों के पीड़ित परिजनों को चार-चार लाख रुपये देगी. मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने राज्य विधानसभा को इसकी सूचना दी.  गौरतलब है कि इराक में वर्ष 2014 में अपहृत 39 भारतीयों की इस्लामिक स्टेट के आतंकियों ने हत्या कर दी थी और सामूहिक कब्र में उन्हें दफना दिया था. केंद्र सरकार ने संसद में पिछले सप्ताह यह जानकारी दी थी. राज्य विधानसभा में सूबे के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि राज्य के चार युवकों की पहचान अमन कुमार, संदीप सिंह राणा, इंद्रजीत ( तीनों कांगड़ा जिले के निवासी) और मंडी जिले के हेमराज के रूप में हुई है. उन्होंने कहा कि चारों हिमाचली युवकों के शवों के अवशेषों को उनके गांवों तक पहुंचाने के लिए राज्य सरकार सभी जरूरी बंदोबस्त करेगी.

यह भी पढ़ें: बीजेपी से दो-दो हाथ करने पर ममता बनर्जी चंद्रबाबू नायडू और मायावती से खुश

साथ ही उन्होंने कहा कि नाइजीरियाई समुद्री डाकुओं द्वारा अगवा किए गए प्रदेश के तीन युवकों सुशील कुमार, पंकज कुमार और अजय कुमार को बचाने के लिए भी हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं. इन युवकों को छोड़ने के बदले समुद्री डाकुओं ने फिरौती की मांग की है. इस बीच, इराक में मारे गए 39 भारतीयों के परिजनों ने आज पंजाब कांग्रेस के प्रमुख लोकसभा सांसद सुनील जाखड़ से दिल्ली में मुलाकात की.

यह भी पढ़ें: चंद्रबाबू नायडू का पलटवार, कहा - अमित शाह का खत ‘झूठ का पुलिंदा

जाखड़ ने केंद्र सरकार से अनुरोध किया कि वह इन परिवारों को हर संभव मदद मुहैया कराए. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार को पीड़ित परिवारों की भावनाएं समझनी चाहिए और बिना किसी देरी के उन्हें मदद देनी चाहिए. जाखड़ ने कहा कि अफसोस इस बात का है कि उनकी संवेदनशील स्थिति को समझने के बजाए केंद्र उन्हें प्रताड़ित कर रहा है. (इनपुट भाषा से)

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com