NDTV Khabar

कानपुर में हिज्बुल का आतंकवादी पकड़ा गया : गणेश चतुर्थी पर वारदात की थी योजना

यूपी एटीएस ने संदिग्ध आतंकवादी कमर-उज-अमन उर्फ डॉ हुरैरा को एनआईए की मदद से कानपुर के शिवनगर से गिरफ्तार कर लिया

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कानपुर में हिज्बुल का आतंकवादी पकड़ा गया : गणेश चतुर्थी पर वारदात की थी योजना

कमर-उज-अमन ने सोशल मीडिया पर एके-47 लिए हुए अपनी फोटे शेयर की थी.

खास बातें

  1. आतंकी के फोन से कानपुर के एक मंदिर की रेकी करने का वीडियो मिला
  2. स्वीकार किया कि उसे कानपुर आतंकी मिशन पर भेजा गया था
  3. अप्रैल में एके-47 लिए हुए अपनी एक फोटो सोशल मीडिया पर डाली थी
लखनऊ: यूपी एटीएस ने आज कानपुर से हिज्बुल मुजाहिदीन के एक संदिग्ध आतंकवादी कमर-उज-अमन उर्फ डॉ हुरैरा को गिरफ्तार किया है. कमर-उज-अमन असम का रहने वाला है. अप्रैल में उसने एके-47 लिए हुए अपनी एक फोटो सोशल मीडिया पर डाली थी, जिसमें उसने अपना नाम डॉ हुरैरा लिखा था. तभी से सुरक्षा एजेंसियां उसकी तलाश कर रही थीं.  

डीजीपी ओपी सिंह ने बताया कि यूपी एटीएस ने एनआईए की मदद से आज उसे कानपुर के शिवनगर से गिरफ्तार कर लिया.
 
सोशल मीडिया पर एक-47 के साथ उसकी तस्वीर आने के बाद उसकी मां ने कहा था कि सरकार को उसे गोली मार देनी चाहिए. और उसकी बहन ने कहा था कि अगर वह मर जाए तो उसकी लाश उनके घर न भेजी जाए क्योंकि किसी आतंकी से उनका कोई रिश्ता नहीं हो सकता.

यह भी पढ़ें : कश्मीर में सुरक्षा बलों का नया नारा, 'आतंकियों को जिंदा पकड़ो'

डीजीपी ओपी सिंह का कहना है कि वह गणेश चतुर्थी के मौके पर कोई वारदात करना चाहता था. उसके फोन से कानपुर के एक मंदिर की रेकी करने का वीडियो भी मिला है. उसने पूछताछ में हिज्बुल मुजाहिदीन का सदस्य होना स्वीकार किया है और यह भी स्वीकारा है कि उसे कानपुर आतंकी मिशन पर भेजा गया था.  

यह भी पढ़ें : असम में तैनात आईपीएस अधिकारी का भाई बना हिजबुल मुजाहिदीन का आतंकी

कमर-उज-अमन बीए के तीसरे साल के इम्तिहान में बैठा लेकिन पास नहीं हो सका. उसने कम्प्यूटर कोर्स और टाइपिंग का डिप्लोमा किया है. वह सन 2017 में कश्मीर में ओसामा नाम के एक शख्स से मिला था, जिसके जरिए वह हिज्बुल मुजाहिदीन में शामिल हुआ. उसने हुज्बुल मुजहिदीन की ट्रेनिंग किश्तवाड़ से ऊपर पहाड़ के जंगलों में ली. 2013 में असम में उसकी शादी हुई थी. उसका एक बेटा भी है.    

टिप्पणियां
VIDEO : यूनिवर्सिटी का छात्र आतंकी बना

एटीएस उससे पूछताछ में यह जानना चाहती है कि वह कश्मीर से कब आकर यहां छुपा था? उसके और कौन-कौन से साथी हैं? उसके पास कितना पैसा है और कहां से आया? और उसके टारगेट क्या-क्या थे?


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement