NDTV Khabar

होमगार्ड ड्यूटी घोटाला: फर्जी ड्यूटी दिखाकर वसूली कर रहे थे होमगार्ड अधिकारी, पकड़ में आए तो जलाकर राख किए दस्तावेज

गौतमबुद्धनगर के ग्रेटर नोएडा में एक बड़े घोटाले के तमाम दस्तावेजों को जलाकर राख कर दिया गया. घोटाला ये था कि जिले में होमगार्ड की ड्यूटी की मस्टर रोल में फर्जी एंट्री दिखाई जा रही थी, जबकि वो ड्यूटी पर थे ही नहीं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

गौतमबुद्धनगर के ग्रेटर नोएडा में एक बड़े घोटाले के तमाम दस्तावेजों को जलाकर राख कर दिया गया. घोटाला ये था कि जिले में होमगार्ड की ड्यूटी की मस्टर रोल में फर्जी एंट्री दिखाई जा रही थी, जबकि वो ड्यूटी पर थे ही नहीं. उनकी सैलरी कई सालों से ली जा रही थी. ये घोटाला करोड़ों का है जिसकी जांच यूपी सरकार करवा रही थी, लेकिन इसी बीच मंगलवार को दस्तावेजों को आग के हवाले कर दिया गया.

एक घोटाले जुड़े हज़ारों दस्तावेज राख में तब्दील हो गए और घोटाला भी इसी कमरे में दफ्न हो गया. कमरे और उसके अंदर रखे बक्सों का ताला तोड़कर आग मंगलवार सुबह तड़के लगाई गई. यहां तैनात सुरक्षा गार्ड के कमरे का दरवाजा भी बाहर से बन्द कर दिया, जिससे वो नहीं नहीं सका. जिला कमांडेंट होमगार्ड्स के दफ्तर में, जहां होमगार्ड्स की ड्यूटी को लेकर हुए एक घोटाले की जांच यूपी सरकार करा रही थी लेकिन इसी बीच घोटालेबाजों ने ये कारनामा कर दिया.

तेज हवाओं के कारण Delhi-NCR की वायु गुणवत्ता में महत्वपूर्ण सुधार, लेकिन...


दरअसल ये पूरा मामला कुछ इस तरह है कि इसी साल मई महीने में दफ्तर में काम करने वाले एक शख्स ने पुलिस को शिकायत दी कि मस्टर रोल में होमगार्ड्स की फर्जी एंट्री कर उनकी ड्यूटी दिखाई जा रही है लेकिन असल में डयूटी पर होते ही नहीं और इस तरह कुछ अधिकारी उनकी ड्यूटी का पैसा ले रहे हैं. इस मामले में पुलिस ने जांच की तो पता चला कि हज़ारों की संख्या में मस्टर रोल में होमगार्डस की फर्जी ड्यूटी दर्ज हैं. जबकि असल में न तो उतने होमगार्ड्स हैं और न ही वो ड्यूटी कर रहे हैं. उनकी ड्यूटी फ़र्ज़ी दिखाकर कुछ अधिकारी पिछले कई सालों से घोटाला कर रहे हैं. ड्यूटी के नाम पर मिला करोड़ों रुपया खुद ले रहे हैं.

ग्रेटर नोएडा में पराली जलाने पर नौ के खिलाफ मामला दर्ज, एक किसान गिरफ्तार

टिप्पणियां

घोटाले को लेकर नोएडा पुलिस ने केस दर्ज किया है. इसी बीच यूपी सरकार ने इसी साल अक्टूबर में एक कमेटी बनाकर जांच शुरू करवाई, लेकिन इससे पहले जांच अपने अंजाम तक पहुंच पाती घोटाले से जुड़े हज़ारों दस्तावेज स्वाहा कर दिए गए. पुलिस के मुताबिक जो दस्तावेज जले हैं वो 2014 से लेकर अब तक के हैं, पहले होमगार्डस की सैलरी कैश में मिलती थी लेकिन जब से सैलरी खाते में आना शुरू हुई तभी घोटाला की पता चला. इस मामले की जांच अब एक एसआईटी कर रही है. दफ्तर के तमाम कमरों को सील कर दिया गया है.


 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... सारा अली खान ने फिर शेयर की Photos, इंटरनेट पर मच गई धूम

Advertisement