गांधी परिवार से SPG सुरक्षा हटाने पर बोले अमित शाह, बदले की भावना मेरी पार्टी का संस्कार नहीं... 

गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी की सुरक्षा हटाई नहीं गई है बल्कि बदली गयी है.

गांधी परिवार से SPG सुरक्षा हटाने पर बोले अमित शाह, बदले की भावना मेरी पार्टी का संस्कार नहीं... 

गृहमंत्री शाह ने कहा कि कांग्रेस को केवल एक परिवार की चिंता है, हमें पूरे देश की जनता की फिक्र है.

नई दिल्ली :

गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने बुधवार को कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी की सुरक्षा हटाई नहीं गई है बल्कि बदली गयी है और गांधी परिवार को जेड प्लस श्रेणी की पुख्ता सुरक्षा मिली हुई है. उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस को केवल एक परिवार की चिंता है, जबकि हमें पूरे देश की जनता की चिंता है. अमित शाह ने लोकसभा में एसपीजी संशोधन विधेयक 2019 पर हुई चर्चा का जवाब देते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी और उसके साथी दलों के सदस्यों ने इस तरह की धारणा जनता में बनाने का प्रयास किया कि एसपीजी कानून में यह संशोधन गांधी परिवार की सुरक्षा हटाने के लिए किया जा रहा है. उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि ऐसी भी धारणा बनाने का प्रयास किया गया कि सरकार को गांधी परिवार की सुरक्षा की चिंता ही नहीं है और उनकी सुरक्षा हटा ली गयी है. 

SPG कानून में संशोधन पर बोले अमित शाह- अब केवल पीएम और उनके आवास में रहने वालों को मिलेगी यह सुरक्षा

गृह मंत्री अमित शाह ने कहा, ‘सुरक्षा हटाई नहीं गई है, सुरक्षा बदली गई है.' उन्होंने कहा कि गांधी परिवार के सदस्यों को जेड प्लस श्रेणी की पुख्ता सुरक्षा मिली हुई है जिसमें पर्याप्त बल और एंबुलेंस आदि शामिल हैं. शाह ने विधेयक पर चर्चा में कांग्रेस के मनीष तिवारी के भाषण का जिक्र करते हुए कहा कि मूल कानून में पांचों बार संशोधन सिर्फ एक परिवार को ध्यान में रखकर किये गये. इस बार केवल प्रधानमंत्री की सुरक्षा को ध्यान में रखकर संशोधन किया जा रहा है. उन्होंने यह भी कहा कि जब पूर्व प्रधानमंत्रियों चंद्रशेखर, इंद्र कुमार गुजराल और मनमोहन सिंह की सुरक्षा में बदलाव किया गया तो कांग्रेस ने कुछ नहीं कहा लेकिन आज एक परिवार की सुरक्षा को लेकर इतनी बात हो रही है.

गांधी परिवार से SPG कवर हटाने पर बोले सरकारी सूत्र- मामला खत्म हो गया, अब कांग्रेस पूछती रहे

गृह मंत्री ने कहा, ‘‘चिंता व्यक्त करने के मापदंड क्या हैं, वह देश को समझना चाहिए. इन्हें (कांग्रेस को) केवल एक परिवार की चिंता है, इसे देश को समझना चाहिए.'' उन्होंने कहा कि गांधी परिवार की सुरक्षा तो कानून में संशोधन से पहले हटा ली गई थी, यह विधेयक तो सबसे ज्यादा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ही प्रभावित करने वाला है जिनके पद से हटने के छठे साल में उनकी सुरक्षा चली जाएगी. इस कानून से तो केवल वह प्रभावित होंगे. शाह ने कांग्रेस के आरोपों पर कहा ‘‘ बदले की भावना से काम करना मेरी पार्टी का संस्कार नहीं है, बदले की भावना से कांग्रेस ने काम किया है''. उन्होंने कहा कि भारत सरकार की जिम्मेदारी एक एक व्यक्ति की है, केवल एक परिवार (गांधी परिवार) की नहीं.  

SPG कवर हटाए जाने के बाद सोनिया गांधी को मिली 10 साल पुरानी टाटा सफारी...

Newsbeep

इससे पहले विशेष सुरक्षा समूह (एसपीजी) संशोधन विधेयक, 2019 को चर्चा एवं पारित करने के लिये रखते हुए शाह ने कहा कि एसपीजी का गठन प्रधानमंत्री की सुरक्षा के लिए किया गया था और दुनिया के कई देशों में उनके शासनाध्यक्षों की सुरक्षा के मकसद से ऐसे ही विशिष्ट सुरक्षा इकाई बनाई गई हैं. गृह मंत्री ने कहा कि इस विधेयक को लाने का मकसद एसपीजी को और प्रभावी बनाना है और यह देखना है कि उसके काम में किसी भी तरह की कोई कोताही न हो. गृह मंत्री ने कहा, ‘‘मैं जो संशोधन लेकर आया हूं, उसके तहत एसपीजी सुरक्षा सिर्फ प्रधानमंत्री और उनके साथ उनके आवास में रहने वालों के लिए ही होगी तथा सरकार द्वारा आवंटित आवास पर रहने वाले पूर्व प्रधानमंत्री और उनके परिवार को पांच साल की अवधि तक एसपीजी सुरक्षा प्राप्त होगी ''.   

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: गांधी परिवार से एसपीजी सिक्योरिटी हटाने पर विवाद



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)